संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : भविष्य में ग्रेटर नोएडा की जीवन रेखा बनने वाली 130 मीटर चौड़ी सड़क का निर्माण कार्य अब अगले साल पूरा हो पाएगा। प्राधिकरण को अभी तक दो गांवों की जमीन नहीं मिल पाई है। प्राधिकरण किसानों से सीधे जमीन खरीदने के लिए प्रयास कर रहा है। उम्मीद है कि माह के अंत किसानों से सहमति बन जाए। यह सड़क ग्रेटर नोएडा वेस्ट में गाजियाबाद जाने वाली 60 मीटर चौड़ी सड़क से मिलेगी।

गौरतलब है कि शहर के मध्य 130 मीटर चौड़ी सड़क का निर्माण कार्य 2005 से चल रहा है। 28 किलोमीटर लंबी सड़क के निर्माण में कई बार रुकावट आई। सड़क तक 70 फीसद निर्माण कार्य पूरा हो गया है। मास्टर प्लान 2021 एनसीआर प्लानिंग बोर्ड से मंजूर न होने के कारण सड़क का निर्माण कार्य अक्टूबर 2011 से रुक गया था। मास्टर प्लान मंजूर होने के बाद अभी तक सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। खोदना खुर्द व देवला गांव की जमीन का अधिग्रहण नहीं हो पाया है। इन दोनों गांव के बीच सड़क का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। सड़क का निर्माण कार्य बीच में बंद न हुआ और प्राधिकरण को समय से दोनों गांव की जमीन पर कब्जा मिल गया होता तो अब सड़क चालू हो जाती। अब सड़क का निर्माण पूरा होने के लिए अगले साल तक इंतजार करना होगा। प्राधिकरण दोनों गांवों के किसानों से सीधे जमीन खरीदने के लिए प्रयासरत है। जमीन सीधे देने पर प्राधिकरण ने किसानों को कई तरह का प्रस्ताव दिया है, काफी हद तक किसान सहमत भी हो गए हैं। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी रमा रमण ने बताया कि माह के अंत तक किसान जमीन देने को तैयार हो जाएंगे। जमीन मिलने के साथ ही सड़क का निर्माण कार्य तेजी से शुरू कर दिया जाएगा। तीन चार माह के अंदर सड़क का निर्माण कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर