जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : गौतमबुद्ध नगर पुलिस के 'ऑपरेशन क्लीन' अभियान ने अवैध रूप से ग्रेटर नोएडा में रह रहे विदेशी नागरिकों पर शिकंजा कसा है। ऑपरेशन क्लीन दस के तहत बिना वीजा पासपोर्ट के रह रहे 60 विदेशी नागरिकों को चार अलग-अलग सोसायटी व सेक्टर से पकड़ा गया है। इसमें 32 पुरुष व 28 महिलाएं हैं। सभी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। अधूरे दस्तावेज के साथ पकड़े गए विदेशी नागरिकों को उनके देश वापस भेजा जाएगा। दूतावास को सूचना देकर उनको वापस भेजने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पुलिस जांच में 17 वीजा की अवधि समाप्त मिली है जबकि आठ वीजा फर्जी पाए गए हैं। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि फर्जी वीजा कहां और किस व्यक्ति से बनवाया गया। इसके अलावा विदेशी नागरिकों के कब्जे से दिल्ली मार्का 222 बोतल बीयर, गांजा, छह लैपटॉप, 114 सिम कार्ड व पांच छोटे डिवाइस बरामद किए गए हैं। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि सूचना मिली थी कि शहर में कुछ ऐसे विदेशी नागरिक रह रहे हैं, जिनके पासपोर्ट वीजा की अवधि समाप्त हो चुकी है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस व एलआइयू की तीन टीमें बनाकर बुधवार सुबह छह से दस बजे तक शहर के विभिन्न सोसायटियों व सेक्टर में रह रहे विदेशी नागरिकों का सत्यापन अभियान चलाया गया। अभियान के दौरान नाइजीरिया, केन्या, तंजानिया, जांबिया, आइबरी कोस्ट, अंगोला आदि देशों के करीब 320 नागरिकों के आवश्यक दस्तावेज जांचे गए। इसमें 260 विदेशी नागरिकों के पासपोर्ट वीजा सहित अन्य दस्तावेज वैध पाए गए एवं 60 लोगों के दस्तावेज संदिग्ध, अपूर्ण, अथवा उपलब्ध नहीं पाए गए।

---

दिल्ली डिटेंशन सेंटर में रहेंगे विदेशी नागरिक

सत्यापन अभियान में अधूरे दस्तावेज के साथ पकड़े गए विदेशी नागरिकों को उनके देश वापस भेजने की प्रक्रिया तक दिल्ली डिटेंशन सेंटर में रखा जाएगा। इस प्रक्रिया में दो सप्ताह का समय लग जाता है। कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद ही सभी को उनके देश वापस भेजा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस