मुजफ्फरनगर, जेएनएन। जंगल के बीच स्थित पोल्ट्री फार्म पर मिस्त्री बनकर पहुंचे बदमाश टेंपो में सामान भरकर ले जाने लगे। फार्म मालिक को देख बदमाश फायरिग करते खेतों के रास्ते भाग गए। घेराबंदी के दौरान बदमाशों का टेंपो नाली में गिर गया।

खड़कावाला से शुगर मिल को जाने वाली सड़क पर शहर निवासी राजीव गुप्ता रविवार को दोपहर में साथियों संग जंगल में पहुंचे। गुप्ता ने बताया कि जंगल में बन रहे पोल्ट्री फार्म पर कोरोना के चलते निर्माणाधीन बिल्डिग का काम चार माह से बंद पड़ा है। बताया कि रविवार को दोपहर में दस-बारह बदमाश टेंपो लेकर फार्म पर पहुंचे और बिल्डिग से सीमेंट की चादरें उतारकर टेंपो में लादनी शुरू कर दी तथा वेल्डिग कटर से लोहा काटने लगे। बराबर में गुप्ता के खेत में काम कर रहे मजदूर ने मालिकों को जानकारी दी। मालिकों ने कहा कि हमने तो किसी को नहीं भेजा। गुप्ता ने बताया कि वह साथियों संग मौके पर पहुंचे और चोरों की घेराबंदी का प्रयास किया। खुद को घिरता देख बदमाश फायरिग करते हुए भाग गए। भागते वक्त सामान से भरे टेंपो का पहिया नाली में गिरने से उसे भी छोड़ दिया। सूचना देने के घंटों बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मालिकों को सूचना देने वाले मजदूर से पूछताछ की तो उसने बदमाशों का संख्या तो बताया लेकिन फायरिग की बात को मना किया। पुलिस मजदूर को ही पकड़कर थाने ले गई तथा मौके पर मिले टेंपो को कब्जे में ले लिया। फार्म के सभी साझीदार भी थाने पहुंच गए थे। तहरीर नहीं दी गई थी। प्रभारी निरीक्षक एचएन सिंह ने बताया कि मामला साझीदारी के विवाद का है। पुलिस जानकारी जुटा रही है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran