मुजफ्फरनगर, जेएनएन। हाइवे निर्माण पर तेजी से चल रहे काम के बीच कई मांगों की आस जनपदवासियों में अभी शेष है। विधानसभा चुनाव 2022 के दौरान भी कई मुद्दें उठने लगे हैं। जनपद में शहर से लेकर देहात तक लोगों की कई मांगे वेटिग में चल रही है, जिसकी आस में विधानसभा चुनाव के दौरान लोग जगह-जगह चर्चाएं भी कर रहे हैं। शहर सीट से लेकर मीरापुर सहित अन्य क्षेत्रों में जनपद को मेट्रो सिटी से जोड़ने के लिए चल रही रेपिड रेल की तैयारी के जल्द पूर्ण करने की उम्मीद हैं। इसके अलावा हरिद्वार से शुकतीर्थ को जोड़ने सहित शहर के भीतर पार्किंग व्यवस्था की मांग उठ रही है।

पिछले कई सालों में जनपद को आधाभूत ढांचा देने के लिए विकास कार्यों ने रफ्तार पकड़ी है। इसमें शहर के अंदर की सड़कों का विकास हो या संपर्क मार्गाें के विकास का काम हो। सभी जगह की सड़कों को वाहनों को दौड़ने लायक बनाया है। बात यदि स्टेट हाइवे की करें तो मुजफ्फरनगर से सहारनपुर के लिए बने स्टेट हाइवे पर वाहन सरपट दौड़ रहे हैं। एक घंटे से भी कम समय में मुजफ्फरनगर से सहारनपुर तक पहुंच रहे हैं। इसके अलावा नेशनल हाइवे पर भी क्रासिग पर अंडरपास और ओवर ब्रिज बनने वाहनों ने रफ्तार पकड़ी है। दुर्घटनाओं की समस्याएं दूर हुई है। इस विकास को लोग याद रखते हुए गुणगान भी करते हैं, लेकिन इस बीच कई आस अभी अधूरी है, जिन्हें विधानसभा चुनावों में याद किया जा रहा है। जनपद के लोग उस दिन का इंतजार कर रहे हैं, जिस दिन जनपद में रेपिड रेल से मेरठ और गाजियाबाद जुड़ जाएगा। हालाकि की मेरठ तक रेपिड रेल की सेवा के लिए तेजी से काम चल रहा है। केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान के प्रयास से रेपिड रेल के कार्य को मुजफ्फरनगर के लिए मंजूरी मिल गई है। अब लोगों को जल्दी से मुजफ्फरनगर तक इस सेवा के आने का इंतजार है।

---

शुकतीर्थ को हरिद्वार से जोड़ने की आस

जनपद की तीर्थ नगरी शुकतीर्थ के विकास के लिए कई योजनाओं के अमल में आने की आस भी लोगों का है। चुनावी मौसम में की गई घोषणाओं को लोग भूलना नहीं चाहते हैं। ब्रहमपुरी निवासी भारत भूषण का कहना है कि हाल ही में जनपद में पहुंचे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शुकतीर्थ को हरिद्वार से जोड़ने पर जिक्र किया था। इसकी मांग पहले से भी उठती आई है। हरिद्वार से शुकतीर्थ से जोड़ने के लिए हाइवे बनने से जनपद के विकास का पहिया भी घूम जाएगा।

Edited By: Jagran