खतौली: रविवार को डा. भीमराव आंबेडकर की जयंती धूमधाम से मनाई। उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनके पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लिया। नगर में धूमधाम से डा. अंबेडकर की शोभायात्रा निकाली गई। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस मौजूद रही।

कोतवाली के सामने स्थित डा. अंबेडकर की प्रतिमा पर रविवार की सुबह माल्यार्पण किया गया। बोधिसत्व डा. भीमराव आंबेडकर कल्याणकारी समिति की ओर से नगर पालिका परिषद में आयोजित विचार गोष्ठी में डा. अंबेडकर उनके जीवन पर प्रकाश डाला और उनके पद चिन्ह पर चलने का संकल्प लिया। बुद्ध वंदना की गई। कार्यक्रम में कलाकारों ने डा. भीमराव आंबेडकर के जीवन पर आधारित संगीतमय गीत प्रस्तुत किए गए। इस मौके पर संजय जाटव, सुखवीर सिंह मनमोजी, डा. जयपाल सिंह, ब्रिजेश कुमार, कुलदीप प्रधान, लोकेश कुमार, रविद्र कुमार पाल, संजीव नाहरिया, सुदेश कुमार, डा. मैनपाल सिंह, योगेश कुमार, विनेश सभासद, चरण सिंह,संदीप कुमार, मुरारीलाल, कैलाश, नरेंद्र कटारिया, रतनसिंह, चंद्रपाल, हुकुम सिंह, नवाब सिंह, गंगा शरण, सहेंद्रपाल, प्रीतम, सौराज, देवेंद्र, राहुल, विनोद, सुंदरलाल, राजकुमार आदि मौजूद रहे। दोपहर को नगर में शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा पैठ रोड, ढाकन चौक, सराय अगाड़ी, बड़ा बाजार, इंदिरा मूर्ति, मेन रोड होती हुई वापस कोतवाली के सामने संपन्न हुई। शोभायात्रा में कई बैंड, झांकियां व डीजे पर देशभक्ति गीत प्रस्तुत किए गए। आर्यपुरी फलावदा रोड स्थित रविदास मंदिर आश्रम पर डा. अंबेडकर जयंती धूमधाम से मनाई गई। खतौली रोडवेज डिपो में श्रमिक समाज ने डा. अंबेडकर के चित्र पर पुष्प अर्पित किए। पिकेट इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानाचार्य कैरल एचएस सिंह ने डा. अंबेडकर के बारे में जानकारी दी। अनिल हडसन, संजीव कुमार, रमेशचंद, प्रदीपलाल, नयनदीप जेकब ने डा. आंबेडकर के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पिपत की। गांव भूपखेड़ी में डा. अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इसके अलावा मंसूरपुर और रतनपुरी क्षेत्र में डा. भीमराव आंबेड़कर की जयंती मनाई गई।

Posted By: Jagran