जेएनएन, मुजफ्फरनगर। विधान परिषद सदस्य (स्नातक) के चुनाव के लिए खतौली पालिका और ब्लाक में पोलिग बूथ बनाए गए। स्नातक और शिक्षक वर्ग के मतदाताओं ने उत्साह से मतदान किया। पोलिग बूथों पर फोर्स के साथ पर्यवेक्षक भी तैनात रहे। इस दौरान व्यवस्था परखने के लिए अधिकारी दिनभर बूथों पर दौड़ते रहे है। प्रत्येक बूथ पर कोविड-19 की गाइडलाइन की जांच की गई। पालिका में मतदाताओं के हाथों को सैनिटाइज किया गया और थर्मल स्क्रीनिग के बाद प्रवेश दिया गया।

एसडीएम इंद्राकांत द्विवेदी, तहसीलदार पुष्करनाथ चौधरी, खंड विकास अधिकारी पवन विश्वकर्मा ने पालिका में बनाए गए बूथों पर व्यवस्था की जांच-पड़ताल की। यहां बनी हेल्प डेस्क पर सैनिटाइजर और मास्क रखवाए गए। ईओ जेपी यादव को शारीरिक दूरी बनाकर मतदाताओं की कतार लगवाने के निर्देश दिए गए। एसडीएम इंद्राकांत द्विवेदी ने प्रत्येक बूथ पर पूर्ण रूप से कोरोना से बचाव का पालन करने को किए गए इंतजाम परखे। ड्यूटी में लगे कर्मचारियों को भी सुरक्षा की हिदायत दी गई। इसके बाद खंड विकास कार्यालय के परिसर में बने पोलिग बूथों का जायजा लिया। यहां कर्मचारियों को अनावश्यक रूप से घूमने वाले लोगों को बाहर करने के निर्देश दिए। पोलिग बूथों पर पर्याप्त रोशनी रखने और बिना मतदाता पर्ची की जांच हुए वोट न पड़ने देने की चेतावनी दी गई।

समर्थकों ने सजाए अपने बस्ते

अपने-अपने पक्ष के प्रत्याशी के लिए समर्थकों ने भी बस्ते सजाए। राजनीतिक दलों के अलावा निर्दलीय उम्मीदवारों के समर्थकों को भी पोलिग बूथ से करीब 500 मीटर दूर सहायता बस्ता सजाने की अनुमति दी गई। इस दौरान बूथ परिसर में मोबाइल का प्रयोग वर्जित रहा। मतदान करने आए कई लोगों के मत पर्ची में नाम, संख्या गलत अंकित होने से परेशानी हुई।

भाजपाइयों के बीच पहुंचे केंद्रीय राज्यमंत्री

ब्लाक और नगरपालिका क्षेत्र में केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ने भाजपाइयों के बीच पहुंचकर उत्साह बढ़ाया। उन्होंने कहा कि समर्थक धैर्य से कार्य करें। उन्होंने नगर व ग्रामीण कार्यकर्ताओं से चुनाव संबंधित जानकारी ली और उन्हें शांतिपूर्वक रहने के निर्देश दिए। वहीं, ब्लाक में विधायक विक्रम सैनी ने भी मतदाताओं की मत पर्ची बनाने और जांच करने में सहायता की है। वह अपने प्रत्याशी के समर्थन में जुटे रहे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप