जेएनएन, मुजफ्फरनगर। शहर कोतवाली क्षेत्र के रामपुरी में नाला निर्माण का विरोध कर रहे कुछ लोगों ने धरने पर बैठने का प्रयास किया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन उक्त लोग नहीं माने। बाद में पुलिस ने सख्ती बरतते हुए विरोध कर रहे लोगों को कोतवाली ले गई।

सिटी मजिस्ट्रेट अभिषेक सिंह ने बताया कि रामपुरी में जल निगम द्वारा नाला निर्माण कराया जा रहा है। कुछ स्थानीय लोग यहां पर राजनीति करते हुए नाला निर्माण का विरोध कर रहे हैं। नाला निर्माण लगभग सौ मीटर पूरा हो चुका है। शुक्रवार को मनीष चौधरी समेत कुछ लोगों ने निर्माण कार्य रुकवाने का प्रयास करते हुए हंगामा कर दिया। इतना ही नहीं उक्त लोगों ने धरने पर बैठने का प्रयास भी किया। सूचना पाकर शहर कोतवाल योगेश शर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों ने विरोध कर रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह लोग नहीं माने। इसके चलते पुलिस ने सख्ती करते हुए मनीष चौधरी समेत लगभग एक दर्जन महिला पुरूषों को पकड़कर कोतवाली भेज दिया। देर शाम सभी से विरोध न करने की बात लिखवाकर ली गई। इसके बाद सभी को नोटिस देकर छोड़ दिया गया। सूचना पाकर भाजपा जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला भी कोतवाली पहुंचे थे। सिटी मजिस्ट्रेट का कहना है कि विकास कार्य में रुकावट करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

पानी टंकी निर्माण में अनियमितता की जांच को पहुंची टीम

तितावी। क्षेत्र के गांव बुडीना कलां में चल रहे पानी की टंकी निर्माण मे अनियमितता की शिकायत पर डीएम के आदेश पर एसडीएम सहित जल निगम की टीम गांव में पहुंची। उन्होंने जांच कर ठेकेदार को मानक के अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिए।

क्षेत्र के गांव बुडीना कलां में पानी की टंकी का निर्माण चल रहा है। गत दिवस ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान अजय कुमार के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पर शिकायती प्रार्थना पत्र देकर बताया कि गांव में बन रहे पानी की टंकी की पाइपलाइन जो गांव में बिछाई गई है। वह शुरुआत होते ही फट गई है। ये लाइन गांव के सीसी रास्तों को तोड़कर बनाई गई है। ठेकेदार ने रास्तों की मरम्मत भी नही कराई। जिस कारण गांव की गलियों में पानी भर गया है।

पानी की टंकी निर्माण जिस ऊंचाई पर किया गया है, वह मानकों के अनुरूप कम है। जिसके बाद जिलाधिकारी के आदेश पर एसडीएम सदर दीपक कुमार, जल निगम जेई मनोज पाल अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जांच में टंकी पाइपों में कमी पाए जाने पर ठेकेदार को गांव की पाइपलाइन उखाड़कर दोबारा नए पाइप बदलवाने के निर्देश दिए।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप