मुजफ्फरनगर, जेएनएन। पाकिस्तान में जुल्म सहने के बाद अपना वतन छोड़कर दिल्ली में रह रहे कई हिदू परिवार तीर्थनगरी शुक्रतीर्थ में रहकर गंगा खादर क्षेत्र में खेती करेंगे। बुधवार शाम को दिल्ली से पहुंचे छह सदस्यीय दल ने पहले मंदिरों में पूजा-अर्चना कर प्रसाद चढ़ाया। इसके बाद पूर्व प्रधान से खेती करने पर चर्चा की।

शुकतीर्थ के पूर्व प्रधान नीरज रायल शास्त्री ने बताया कि पाकिस्तान से आए सैकड़ों हिदू परिवार सात वर्ष से दिल्ली में रह रहे हैं। इनमें से कई हिदू परिवार उनके संपर्क में हैं। वह शुकतीर्थ में रहकर गंगा खादर क्षेत्र में सब्जी की खेती करना चाहते हैं। बुधवार शाम को दिल्ली से लक्ष्मीचंद, कुंवर राम, किशनपुर, बलराम, प्रकाश व दिलीप समेत छह लोगों का दल शुकतीर्थ में पहुंचा, जहां उन्हें अखंड धाम में ठहराया गया। छह सदस्यीय दल ने बताया कि वह पाकिस्तान के हैदराबाद सिध प्रांत में रहते थे। वर्षो तक जुल्म सहने के बाद सात साल पहले वह अपना मुल्क छोड़कर भारत में आए गए हैं। गुरुवार सुबह दल के सदस्यों ने शुकदेव मंदिर, हनुमतधाम, दुर्गा धाम, गणेश धाम, शिव धाम व प्राचीन अक्षय वट वृक्ष की पूजा-अर्चना की। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी दल के सदस्यों का पटका पहनाकर स्वागत किया। पूर्व प्रधान ने बताया कि करीब 25 परिवारों से उनकी बात चल रही है, जो शुकतीर्थ में ही रहकर गंगा खादर में करीब सौ बीघा जमीन ठेके पर लेकर उसमें सब्जी की खेती करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस