जानसठ (मुजफ्फरनगर): महिला समाख्या की टीम और पुलिस ने 17 जुलाई को होने वाली शादी लड़की के नाबालिग होने के कारण रोक दी। परिजनों को काफी समझाने के बाद वह दो साल बाद विवाह को राजी हुए।

फैजाबाद जिले के नया गांव निवासी सुशील कुमार की पुत्री की शादी मेरठ जिले के भावनपुर गांव निवासी सोनू कुमार से 17 जुलाई को तय हुई थी। घर में बरात की तैयारी चल रही थी। किसी ने महिला समाख्या टीम को जानकारी दी कि गुड्डी की उम्र 16 साल है। जांच में टीम ने पाया कि गुड्डी की उम्र 16 साल है। इसकी जानकारी उन्होंने इंस्पेक्टर को दी तो उन्होंने महिला समाख्या टीम के साथ पुलिस को गांव में भेज दिया। वहां पर सभी ने लडकी के परिजनों को समझाया तो काफी देर के बाद वह लड़की की शादी दो साल बाद करने को राजी हो गया। बाद में गांव के गणमान्य लोगों के बीच बिचौलिए को बुलाया गया और उसे मामले की जानकारी दी गई। बिचौलिए ने वर पक्ष के लोगों से बात कर इस बात के लिए राजी कर लिया कि यह शादी दो साल बाद ही करेगें। मामले लड़की के परिजनों से लिखित में शादी न करने का हलफनामा लिया गया। महिला समाख्या टीम में ममता चौधरी डीआरपी, शमशाद जेआरपी व वर्षा मौजूद रहीं।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran