मुजफ्फरनगर, जेएनएन। परिवहन विभाग की ओर से आर्य समाज रोड स्थित डीएवी इंटर कॉलेज में सड़क सुरक्षा को लेकर दो दिवसीय भाषण प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें छात्र-छात्रओं ने यातायात के नियमों पर अपने विचार रखे। छात्रों ने समस्या और समाधान को बताया। अधिकारियों ने कहा कि नाबालिगों के हाथ में वाहन न दें। अभिभावकों की भी जिम्मेदारी है कि वह स्वयं अपने बच्चों को स्कूल-कॉलेज छोड़कर आएं। छात्र-छात्राओं से यातायात के नियमों का पालन करने की अपील की गई।

कार्यक्रम का शुभारंभ राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल, डीएम सेल्वा कुमारी जे. ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। उन्होंने कहा कि सड़क हादसों में कमी लाने के लिए सामूहिक सहभागिता जरूरी है। सड़क पर चलने वाले प्रत्येक वाहन सवार को यातायात के नियमों का पालन करना होगा, तभी सड़क सुरक्षा संभव हो सकती है। लापरवाही और तेज गति हादसों का प्रमुख कारण है। इसके बाद दो भागों में भाषण प्रतियोगिता कराई गई। जिसमें कक्षा 9 से लेकर 12 तक व स्नातक के छात्र ओर छात्राओं ने भाग लिया। दोनों ही प्रतिभाग करने वाली टीमों को सड़क सुरक्षा के संबंध में अलग-अलग टॉपिक दिए गए थे, जिन पर बच्चों ने अपने विचार रखे। प्रतियोगिता में पहले तीन स्थानों पर आने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया जाएगा। छात्रों ने कहा कि सीट बेल्ट, हेलमेट लगाने के लिए लोगों को जागरुक करेंगे। वहीं, जो यातायात के नियमों का पालन कर रहे हैं, उन्हें सम्मानित किया जाए। सड़क सुरक्षा किसी एक व्यक्ति के पालन करने से नहीं होगी, हम सबको नैतिक जिम्मेदारी उठानी होगी। पुरस्कार की घोषणा शनिवार को होगी। इस दौरान एआरटीओ प्रशासन राजीव कुमार बंसल, एआरटीओ प्रवर्तन विनीत मिश्र, एआरएम बीपी अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस