मुरादाबाद, जेएनएन। घर के अंदर गोदाम में अवैध शराब बनाते समय जहरीली गैस रिसने से चार लोगों को मौत हो गई। जिसमें शराब बना रहे बाप-बेटे के साथ ही दो सहयोगी भी शामिल हैं। देर रात घटना की जानकारी होते ही गांव में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर एसएसपी पवन कुमार के साथ अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने चार लोगों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज द‍िया है। पुलिस ने घटना से जुड़े हर पहलू की बारीकी से जांच शुरू कर दी है। आला अधिकारी भी घटना पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। वहीं दूसरी ओर ज‍िस मकान में यह अवैध धंधा चल रहा था पुलिस ने उसे तुड़वाना शुरू कर द‍िया है। 

डिलारी थाना क्षेत्र के राजपुर केसरिया गांव में राजेंद्र कुमार घर के अंदर बने तहखाने में अवैध रूप से शराब बनाने का काम करता था। पुलिस के मुताबिक वह काफी लंबे समय से अवैध शराब के काम में लिप्त था। तहखाने के अंदर देर रात भी अवैध शराब बनाई जा रही थी, तहखाने के अंदर जहरीली गैस रिसकर एकत्र हो रही थी। इसी दौरान राजेेंद्र के घर में कोई अवैध शराब लेने के लिए आया। पिता राजेंद्र ने अपने बेटे हरकेश और प्रीतम को शराब लेने के लिए तहखाने में भेजा। काफी देर तक वापस न आने पर सभी को चिंता हुई।

इसके बाद मौसेरा भाई रमेश के साथ राजेंद्र भी तहखाने में चला गया। वहां देखा तो दोनों बेटे बेहोश पड़े थे।  तहखाने में पहुंचते ही राजेंद्र और रमेश भी बेहोश हो गए। चारों के गायब होने पर परिवार को चिंता हुई तो आसपास के लोगों को बुलाया। इसके देखा तो चारों तहखाने के अंदर बेहोश पड़े थे। घटना की सूचना मिलने पर डिलारी थाना प्रभारी सतराज मौके पर पहुंचे। वहीं इसके बाद एसएसपी पवन कुमार, एसपी देहात विद्यासागर मिश्र के साथ अन्य अधिकारियों ने पहुंचकर देखा। देर रात तक चारों की मृत्यु हो चुकी थी। पुलिस ने शव को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। एसएसपी ने बताया कि चार लोगों की मौत हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद ही मौत का सही कारण पता चल सकेगा।

ज‍िले में चल रहा अवैध शराब का कारोबार : ज‍िले में बड़े पैैैैैमाने पर अवैध शराब बनाने का काम क‍िया जाता है। शहर की आदर्श कालोनी इसके ल‍िए व‍िख्‍यात है। इसके अलावा देहात के कई इलाकों में भी अवैध शराब बनाने का काम होता है। पुलिस कई बार कार्रवाई भी करती लेकिन बाद में फ‍िर से यह काम शुरू कर द‍िया जाता है।

Edited By: Narendra Kumar