मुरादाबाद, जेएनएन। शहर के एक हकीम से रंगदारी के रूप में दो लाख रुपये मांगे जाने की घटना प्रकाश में आई है। हकीम की तहरीर पर पुलिस ने एक आरोपित युवक को तमंचे के साथ गिरफ्तार किया है। उसे जेल भेजे जाने की तैयारी हो रही है।

कुंदरकी थाना क्षेत्र के नुरूल्ला मुहल्ला निवासी मुहम्मद आलम के मुताबिक वह हकीम हैं। उनकी दुकान मुरादाबाद में पीर का बाजार में है। 15 सितंबर शाम साढ़े छह बजे दो युवक उनकी दुकान पर आए। दोनों तमंचे से लैश थे। बातचीत में दोनों ने हकीम को बताया कि उसके नाम की पांच लाख रुपये की सुपारी मिली है। यदि दो लाख रुपये हकीम ने दे दिया, तो वह अपनी सुपारी खत्म कर देंगे। करीब 30 मिनट तक दोनों युवक हकीम के पास बैठे रहे। आरोपितों ने हकीम से कहा कि जिस जगह पर वह बुलाएंगे, वहां रुपये लेकर हकीम को आना पड़ेगा। इस दरम्यान हकीम ने दोनों आरोपितों की वीडियो फुटेज बना ली। इसके बाद पीड़ित मझोला थाने गया। वहां तहरीर देकर प्रकरण में कानूनी कार्रवाई की मांग की। अज्ञात के खिलाफ अभियोग दर्ज कर पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू की। एक आरोपित शहजाद निवासी नई बस्ती सिटी कोतवाली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

हकीम की समझदारी ने आसान किया पुलिस का काम 

दरअसल दोनों युवकों के पास हथियार थे। इसके बावजूद हकीम ने समझदारी दिखाते हुए बातचीत की वीडियो बना ली। इससे पुलिस का काम काफी हद तक आसान हो गया वर्ना आरोपितों की पहचान में ही काफी वक्‍त लग सकता था। वहीं इस घटना को लेकर इलाके में भी चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। इस मामले में पुलिस कोई सवालों के जवाब तलाशने होंगे। मसलन सुपारी किसने दी,  सुपारी देने की वजह क्‍या रही। बदमाशों को पांच लाख सुपारी से ि‍मिल रहे थे, तो ऐसे क्‍या हालात रहे कि उन्‍हें हकीम के पास ही जाना पड़ा। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस