बेटे ने ही बहनोई संग मिलकर की थी मां की हत्या, वजह जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान 

सम्‍भल के असमोली थाना क्षेत्र में हुई महिला की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। बेटे और दामाद ने मिलकर ही उसे मारा था। दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, इस घटना के राजफाश के दौरान जब हत्यारोपित से वजह पूछी गई तो उसे जानकर सब हैरान रह गए। 

  रामपुर से जनेटा शरीफ जा रहे मां-बेटे की सड़क हादसे में मौत, तीन वर्षीय बच्‍‍चे की हालत गंभीर 

 बिलारी में मुरादाबाद रोड स्थित मुखिया के ढाबे के पास बाइक को एक तेर रफ्तार पिकअप ने टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार मां-बेटे की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि तीन वर्षीय बच्‍चा गंभीर रूप से घायल हो गया। एक दूसरी बाइक पर मृतक आसिफ के भाई और भाभी थे। उनकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेते हुए घायल बच्‍‍चे को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिलारी पहुंचाया।

 सिंचाई करने खेत गए किसान की हत्या, तीन दिन बाद नदी में मिला शव 

अमरोहा में फसल की सिंचाई करने खेत गए किसान की हत्या कर दी गई। तीन दिन बाद उसका शव नदी में उतराता मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया। किसान के परिजन हत्या के बाद शव फेंके जाने का आरोप लगा रहे हैं। हसनपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव लठीरा माफी निवासी 35 वर्षीय किसान नरेश कुमार तीन दिन पहले घर से फसल की सिंचाई की बात कहकर निकला था। 

 मुहर्रम में यहां दिखती है सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल, ब्राह्मण मनाते हैं कर्बला के शहीदों का मातम

मुहर्रम के महीने में अमरोहा जनपद के नौगावां सादात में सांप्रदायिक सौहार्द की अनूठी मिसाल देखने को मिलती है। यहां हर साल शिया समुदाय के साथ आजमगढ़ से आने वाले ब्राह्मण समाज के लोग कर्बला के शहीदों की याद में मातम करते हैं। दावा किया जाता है कि नौगावां सादात के अलावा देश के किसी अन्य शहर में गैरमुस्लिम मुहर्रम के दौरान मातम नहीं मनाते। आजमगढ़ से आने वाले जत्थे को हुसैनी ब्राह्मण कहा जाता है। यह लोग 25 साल से यहां आकर कर्बला के शहीदों के गम में शिरकत करते हैं। 

सपा सांसद आजम खां को जेल जाने से नहीं बचा पाएंगे मुलायम सिंह

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल लाला ने कहा कि सपा के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव रामपुर का माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। यदि उन्होंने ऐसा करना जारी रखा तो यहां की जनता उनका पुरजोर विरोध करेगी। प्रेस को जारी विज्ञप्ति में उन्होंने कहा है कि सांसद आजम खां को बचाने के लिए मुलायम सिंह कितने ही प्रयास कर लें, लेकिन उन्हें जेल जाने से बचा नही पाएंगे।

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस