मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। स्वच्छ भारत मिशन की टीम ने मुरादाबाद में शौचालयों का निरीक्षण कर उनकी खामियां दूर करने के निर्देश दिए। जिले में सार्वजनिक शौचालय के निर्माण और उनके इस्तेमाल होने का सच जानने के लिए लखनऊ से जांच अधिकारी हर्षवर्धन की अगुवाई में टीम मुरादाबाद पहुंची। उन्होंने मुरादाबाद के पाकबड़ा क्षेत्र के गजरौला गांव में सार्वजनिक शौचालय देखा।

टीम सबसे पहले मनोहरपुर गांव पहुंची। उन्होंने ग्राम प्रधान को स्वच्छता के लिए लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए। इसके बाद ग्राम पल्लूपुरा, नानकबाड़ी आदि गांव का भी टीम ने निरीक्षण किया इससे पहले टीम ने छजलैट के कई गांव का निरीक्षण करके शौचालय में मिली खामियों को दूर करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान जांच टीम ने शौचालयों का संचालन करने वाले समूह की महिलाओं से भी बातचीत की उन्हें बताया कि शासन से शौचालय को स्वच्छ रखने के लिए धनराशि मिल रही है। इस धनराशि को स्वच्छता पर ही खर्च करना है। जांच अधिकारी हर्षवर्धन ने बताया कि सरकार भारत स्वस्थ अभियान के तहत हर गांव में बनाए गए सार्वजनिक शौचालयों का इस्तेमाल बढ़ाने पर जोर दे रही है।

सड़क और नालों की सफाई न होने से व्यापारी नाराज : मुरादाबाद विकास प्राधिकरण की सड़कें और नाले-नालियों की सफाई नहीं होने से जलभराव की समस्या से लोग परेशान हैं। व्यापारी वेलफेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने नगर आयुक्त संजय चौहान से मिलकर नाराजगी का इजहार किया। सड़कों के सुधार के लिए दिए ज्ञापन में साईं मंदिर रोड, सोनकपुर स्टेडियम रोड, दीनदयाल नगर, रामगंगा विहार, आशियाना, अवंतिका, नवीन नगर, मुख्य सड़क मिडटाउन से वेव मॉल और विवेकानंद तक सड़क की बुरी हालत है। जगह-जगह नाले-नालियां चोक होने से जलभराव की स्थिति हो रही है। कालोनी के लोगों के साथ ही राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं का समाधान कराया जाए। इसमें अनुज गुप्ता, मनु मेहरोत्रा, अग्रिम गुप्ता, अनिल अग्रवाल, सौरभ कपूर, प्रदीप दिवेदी , मनु आदि रहे। वहीं बारिश में नागफनी थाने के पीछे ही सड़क से निकलना दुश्वार हो चुका है। पुराना दसवां घाट के रहने वाले राजेंद्र वाल्मीकि ने बताया कि सड़क जर्जर हो चुकी है। राहगीरों को बहुत परेशानी है। इस समस्या का समाधान कराया जाए।

 

Edited By: Narendra Kumar