मुरादाबाद, जेएनएन। सीएए के विरोध में हिंसक आंदोलनों को देखते हुए मुरादाबाद मंडल में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। मुरादाबाद, रामपुर, सम्भल और अमरोहा आदि जिलों में पुलिस प्रशासन पूरी तरह सतर्क हैं। शुक्रवार की सुबह से ही पुलिस की टीमों ने फ्लैग मार्च शुरू कर दिया। 

मुरादाबाद में गुरुवार की देर रात से ही इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। सुबह पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी अलर्ट मोड पर दिखाए दिए। थानों में पुलिस अधिकारियों ने मातहतों को सतर्कता बरतने के सख्त निर्देश दिए। पुलिस की टीमों ने देहात क्षेत्र में भी फ्लैग मार्च कर लोगों को सुरक्षा का भरोसा दिलाया और शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग की अपील की। 

रामपुर में भी बढ़ाई गई सुरक्षा 

रामपुर जिले में भी सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए है। सूबे में सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले इस जिले में प्रशासन ने सुरक्षा के अतिरिक्त इंतजाम किए हैं। शुक्रवार की सुबह ही जामा मस्जिद आदि इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई। पुलिस अधिकारियों ने उलमा के साथ बैठक की और शहर में घूमकर सुरक्षा का जायजा लिया। 

सम्भल में 30 और की गिरफ्तारी 

सम्भल जिले में हुए बवाल और आगजनी की घटना में पुलिस ने 30 अन्य लोगों की गिरफ्तारी की है। एसपी ने चन्दौसी में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के बाद सम्भल रवाना हो गए। मुस्लिम बाहुल्य इलाकों के अलावा मिश्रित आबादी वाले इलाकों में भी पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता कर दी है। 

अमरोहा में भी अलर्ट 

अमरोहा जिले में पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए हैं। कई इलाकों में पुलिस ने फ्लैग मार्च भी किया। वहीं कई जगहों पर कुछ दुकानें बंद नजर आईं। 

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस