मुरादाबाद(प्रांजुल श्रीवास्तव)। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने नियमों में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। नए नियम से मंडल में एसबीआइ के लाखों ग्राहकों को बड़ा फायदा होगा। नियम के तहत अब एसबीआइ अपने होम लोन की दरों को रेपो रेट से जोड़ देगा, जिससे ग्राहकों को सस्ता होम लोन ऑफर होगा। निर्णय के बाद से होम लोन की दरें रिजर्व बैंक के रेपो रेट पर आधारित हो जाएंगी।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया लगातार तीसरी बार रेपो रेट की दरों में कटौती कर चुका है। हाल ही में उसने 0.25 फीसद की कटौती कर रेपो रेट को 5.75 फीसद कर दिया। इस साल में आरबीआइ इस तरह से 0.75 फीसद की कटौती कर चुका है। वैसे तो रेपो रेट में बदलाव पर ही सभी तरह के लोन की दरें निर्धारित होती हैं, लेकिन अब एसबीआइ पूरी तरह से होम लोन को रेपो रेट पर आधारित कर देगा। इसका सीधा मतलब हुआ कि जब-जब रेपो रेट जितनी रहेगी, उसी आधार पर होम लोन की दरें भी बदलती रहेंगी।

एक जुलाई से लागू हो सकता है नियम

जानकारों की मानें तो स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में अपने नियम को बदलने के लिए मीटिंगों का दौर जारी है। उम्मीद की जा रही है कि इसी जून में इस पर फैसला आ सकता है, जिसके बाद एक जुलाई से नया नियम जारी हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो मंडल के लाखों ग्राहक स्टेट बैंक के सस्ते होम लोन का फायदा उठा सकेंगे।

फैसला आने के बाद ही स्पष्ट होगी स्थिति

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया हमेशा ग्राहकों को सस्ती और अच्छी सर्विस उपलब्ध कराता रहता है। होम लोन को रेपो रेट से जोडऩे पर विचार किया जा रहा है। हालांकि, अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। मुख्यालय की ओर से इस बारे में फैसला आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

-दीपक चंदेल, क्षेत्रीय प्रबंधक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप