मुरादाबाद : पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि राहुल गांधी हमारे लीडर हैं। सोनिया गांधी और प्रियंका भी हमारी लीडर हैं। सिर्फ अध्यक्ष बदले हैं। इस वक्त राहुल बेशक कांग्रेस अध्यक्ष न हों लेकिन, अगर वह होते तो पार्टी और अधिक मजबूती से काम करती। हम सब चाह रहे थे कि वह अध्यक्ष रहें। 

कमजोर दौर से गुजर रही है कांग्रेस 

पूर्व मंत्री मुरादाबाद के सहसपुर की रामलीला के शाही दशहरा समारोह में शामिल होने के लिए आए थे। यहां उन्होंने कहा कि कांग्रेस कमजोर दौर से गुजर रही है, यह बात हम भी मान रहे हैं। कांग्रेस की कमजोरी दूर करनी है। हमको इसके लिए जूझना है, लडऩा है, इसका सामना करना है और बैठकर बात करनी है। 

एनआरसी से कोई डर की बात नहीं 

महाराष्ट्र में कांग्रेस एनसीपी के मिलकर चुनाव लडऩे के सवाल पर उन्होंने कहा कि किसी दल के साथ मिलकर चुनाव लडऩे का मतलब यह नहीं है कि कांग्रेस कमजोर है। भाजपा भी महाराष्ट्र में अन्य दलों के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। एनआरसी लागू होने से मुसलमानों में डर होने की बात पर उन्होंने कि किसी में कोई डर वाली भावना नहीं है, देश के मुसलमानों में भी डर जैसी कोई बात नहीं। हां कुछ मुद्दों को लेकर परेशानी जरूर है, लेकिन डर किस बात का। वहीं गांधी परिवार के साथ एसपीजी सुरक्षा विदेश में भी जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह सरकार का फैसला है। जिसे सुरक्षा मिल रही है, उसका भी तो कोई फैसला होता है। इनका फैसला इन्होंने सुना दिया। राहुल का अपना फैसला होगा।   

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप