मुरादाबाद, जेएनएन। पंजाब मेल में महिला चिकित्सक से छेड़खानी के मामले में नजीबाबाद जीआरपी ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। रेलवे पुलिस अधीक्षक अपर्णा गुप्ता ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल जांच कर आराेपित को जेल भेजने के आदेश दिए हैं।

बुधवार को अमृतसर से बरेली के लिए पंजाब में रह रही महिला चिकित्सक अपने रिश्तेदार के साथ एसी फर्स्ट में यात्रा कर रही थी। महिला चिकित्सक ने बुधवार रात को रेलवे कंट्रोल रूम को सूचना दी थी कि धामपुर स्टेशन पर टीटीई ने उनके साथ छेड़खानी की है। ट्रेन के मुरादाबाद पहुंचने पर आरपीएफ की टीम भी कोच में पहुंच गई। ट्रेन में तैनात दोनों टीटीई की मुरादाबाद में शिनाख्त कराई गई। महिला चिकित्सक ने दोनों टीटीई में से किसी के भी आरोप‍ित होने से इन्कार कर दिया। बरेली पहुंचने पर जीआरपी को तहरीर देकर अज्ञात टीटीई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। इसमें कहा है कि छे़ड़खानी करने वाला सफेद शर्ट और काली पैंट पहने हुए था और खुद को टीटीई बता रहा था। बरेली ने जीआरपी ने रिपोर्ट थाना जीआरपी नजीबाबाद को भेज दी है। इसके साथ ही घटना की जांच शुरू कर दी गई है। महिला चिकित्सक से घटना से संबंधित जानकारी और टीटीई की हुलिया के बारे में पूछताछ की जा रही है। पुलिस अधीक्षक रेलवे अपर्णा गुप्ता ने बताया कि पंजाब मेल में हुई इस घटना को गंभीरता से लिया गया है। जीआरपी नजीबाबाद ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले के खुलासा करने के लिए जीआरपी को विशेष निर्देश दिए गए हैं।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप