मुरादाबाद, जेएनएन। धीरे-धीरे रोडवेज की बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ती जा रही है। बसों में यात्रियों की संख्या बढ़कर 25 हजार तक पहुंच गई है। दिल्ली बॉर्डर के लिए सौ बसें भेजी गई हैं।

पहली जून से बसों का संचालन शुरू हो गया है। पहली जून को दो हजार, दो जून को आठ हजार, तीन जून 16 हजार यात्रियों ने सफर किया था। गुरुवार को 25 हजार से अधिक यात्रियों बसों से सफर किया है। सात सौ बसों में चार सौ से अधिक बसें चल पड़ी है।

दिल्ली बॉर्डर सील होने से बसें आनंद विहार (दिल्ली) नहीं जा रही हैं, लेकिन दिल्ली की सीमा से लगे कौशांबी तक बसें चलायी जा रही हैै। गुरुवार को कौशांबी तक सौ बसें गई हैं। मुरादाबाद डिपो से तीस बसें भेजी गई है। यात्री कौशांबी में उतर कर आनंद विहार से डीटीसी के बसें पकड़कर दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंच रहे हैं।

उधर, उत्तराखंड की सीमा सील होने से रोडवेज रामपुर जिले के बिलासपुर तक, बिजनौर जिले के कोटद्वार से पहले और काशीपुर की सीमा तक बसें भेज रहा है।

क्षेत्रीय प्रबंधक अतुल जैन ने बताया कि बसों में यात्रियों की संख्या बढ़नी शुरू हो गई है। मंडल में सात सौ बसों में चार सौ बसें चलना शुरू हो गई हैं। गुरुवार को बसों से 25 हजार से अधिक यात्रियों ने सफर किया है। इससे 14 लाख रुपये की आय हुई है। सभी बस डिपो में बसों को सैनिटाइज करने के लिए पहले ही मशीन उपलब्ध करायी है। मंडल के सभी बड़े बस अड्डे पर ऑटोमैटिक हैंड सैनिटाइजर मशीन भी लगाई जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस