मुरादाबाद, जेएनएन। Robbery in Moradabad : मूंढापांडे में सराफा कारोबारी की दुकान में घुसकर बीते 20 जनवरी को लूट का प्रयास किया गया था। विरोध करने पर तीन बदमाशों ने मिलकर फायर किया था। इस घटना के दौरान सर्राफ और उसके भांजे ने मिलकर एक बदमाश को सब्बल मारकर घायल कर दिया था, जबकि दो बदमाश मौके से भाग निकले थे। पुलिस ने अस्पताल से डिस्चार्ज कराने के बाद घायल लुटेरे से पूछताछ की। इस दौरान उसने बताया कि उसने छह साथियों के साथ मिलकर लूट की साजिश बनाई थी। पकड़े गए लुटेरे के साथियों को रविवार को सम्भल पुलिस ने एनकाउंटर करके पकड़ा। घायल लुटेरे से पूछताछ के बाद आरोपित को पुलिस ने कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया।

मूंढापांडे थाना क्षेत्र के गांव चमरौआ निवासी सुमित वर्मा की दलपतपुर में वर्मा ज्वैलर्स के नाम से सोने चांदी की दुकान है। 20 जनवरी की शाम करीब छह बजे सुमित वर्मा अपने भांजे कटघर के डबल फाटक निवासी आकाश वर्मा के साथ दुकान पर बैठे थे। तभी तीन बदमाश हाथों में तमंचे लेकर दुकान में घुस आए और जेवर तथा नगदी लूटने लगे। विरोध पर एक बदमाश ने सुमित के कंधे में गोली मार दी थी, जबकि दूसरे फायर करने पर निकले छर्रे से आकाश घायल हो गया। घायल होने के बावजूद आकाश ने एक बदमाश को सिर में सब्बल मार दिया। इससे बदमाश बेहोश हो गया।

पुलिस ने घायल बदमाश काे जिला अस्पताल में किया गया। मौके से दो तमंचे और बदमाशों की बाइक भी बरामद की थी। पकड़े गए बदमाश ने अपना नाम शिवा सैनी निवासी डूंगरपुर थाना गंज जनपद रामपुर बताया था। लुटेरे ने अपने साथी मुकेश निवासी ग्राम सिरसी थाना हजरतनगर गढ़ी जनपद सम्भल और परवेश निवासी ग्राम पैगा थाना आइआइटी ऊधम सिंह नगर उत्तराखंड बताया। शिवा सैनी के पकड़े जाने के बाद मुकेश व परवेश भाग निकले थे।

पूछताछ में आरोपित शिवा ने बताया कि साल 2016 में उसकी बहन ने प्रेम विवाह कर लिया था। इस बात से नाराज होकर उसने अपनी बहन की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी। नाबालिग होने के कारण वह बच्चा जेल में सजा काटने गया था। घटना के बाद स्वजन ने उससे नाता तोड़ लिया था। इसके बाद वह सम्भल जनपद के सिरसी गांव में मामा के घर रहने लगा था। इस घटना में शामिल मुकेश उसके मामा का बेटा है।

बताया कि उसने रामपुर के बिलासपुर थाना क्षेत्र में अनाज के आढ़ती से 62 लाख रुपये की लूट की थी। बीते वर्ष चन्दौसी थाना क्षेत्र में तेल व्यापारी की दुकान में घुसकर नकदी लूटी थी। सोनकपुर थाना क्षेत्र में भी राहगीर से बाइक और उसकी पत्नी से जेवर तथा नकदी लूटी थी। चन्दौसी से मुरादाबाद आने वाली रोडवेज में यात्री से भी लूटपाट इसी गैंग के आरोपितों ने की थी। मूंढापांडे थाना प्रभारी संजय पांचाल ने बताया कि पकड़े गए लुटेरे के साथियों को रविवार को सम्भल पुलिस ने एनकाउंटर के बाद पकड़ा है।

पाकबड़ा में बीएससी नर्सिंग के छात्र के साथ रहकर घटनाओं को दिया अंजामः घर से निकाले जाने के बाद शिवा और मुकेश का सम्भल के दीपक दोस्त है। वह पाकबड़ा के मेडिकल कालेज से बीएससी नर्सिंग का कोर्स कर रहा है। करीब तीन माह पूर्व उसने पाकबड़ा में सभी को छात्र बताकर किराए का कमरा दिलाया था। इस कमरे में हैप्पी, मुकेश, परवेश, अरविंद, शिवा के साथ ही दीपक भी रहता था। हैप्पी सम्भल में मुकेश के साथ पार्टनरशिप में डीजे बजाने का काम करता है।

वर्मा ज्वैलर्स के यहां लूट की साजिश सभी ने मिलकर रची थी। शिवा, मुकेश और परवेश लूटपाट के लिए दुकान पर गए थे, जबकि सम्भल के हजरतनगर गढ़ी के गांव बेटला निवासी दीपक, नखासा थाना क्षेत्र के रायसत्ती मुहल्ला खेड़ा चौकी निवासी अरविंद और सिरसी निवासी हैप्पी लूट को अंजाम देने के लिए दुकान की रेकी करने पहुंचे थे। घटना के दौरान यह सभी मूंढापांडे में मौजूद थे।

Edited By: Samanvay Pandey