मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। मंगलवार को डबल जीरो का सुखद अहसास डर में बदल गया। क्योंकि कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका के चलते स्वास्थ्य विभाग तमाम तैयारियों में जुटा हुआ है। तीन अगस्त को दो लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद से विभागीय अधिकारी इसे तीसरी लहर की दस्तक बता रहे हैं।

बरवालान ऊंची मस्जिद की शम्सी कालोनी के 55 वर्षीय बुजुर्ग में संक्रमण की पुष्टि हुई है। ये कासमास अस्पताल में भर्ती हैं। इनकी जांच ट्रूनेट से की गई थी। इसके बाद संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं कटघर में आरआरटी टीम ने 32 वर्षीय युवक का रेंडम नमूना लिया था। आरटीपीसीआर रिपोर्ट मंगलवार की रात हुई। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक से संपर्क करने का प्रयास किया लेकिन, उसका मोबाइल नंबर स्विच्ड आफ था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. एमसी गर्ग ने बताया कि दो लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। तीसरी लहर के दूसरे राज्यों में संक्रमित पुष्ट हो रहे हैं। सार्वजनिक स्थलों पर जाने से परहेज करें। शारीरिक दूरी के नियम का कड़ाई से पालन करें और बिना मास्क के घर से बाहर नहीं निकलें। अभी सावधानी बरतेंगे तो हालात काबू में रहेंगे। आपको अपने साथ परिवार की भी फिक्र करनी है। जरा सी लापरवाही दिक्कत में डालेगी।

टीकाकरण के दौरान हंगामा : रामपुर के मसवासी में कोविड-19 की वैक्सीन लगाने को लेकर पट्टीकलां के ग्राम घोसीपुरा में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के खिलाफ लोगों ने हंगामा किया। कोविड-19 वैक्सीन के टीकाकरण को लेकर कहीं शारीरिक दूरी के नियमों तो कहीं टीकाकरण को लेकर हंगामा हुआ। क्षेत्र के बिजारखाता गांव में टीकाकरण कराने को लेकर लोगों की काफी भीड़ उमड़ी, जिसमें शारीरिक दूरी के नियमों का पालन नहीं हुआ। टीम की सहयोगी आंगनबाड़ी वर्कर और सहायिकाएं मूकदर्शक बनी रहीं। पट्टीकलां के गांव घोसीपुरा के उच्च प्राथमिक विद्यालय में वैक्सीन लगाने को लेकर हंगामा हुआ। आरोप है कि गांव की ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने वैक्सीन लगवाने आए कई लोगों के साथ अभद्र व्यवहार किया। इससे कई लोग बिना वैक्सीनेशन कराए ही वापस हो गए। इस दौरान काफी लोगों ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के खिलाफ हंगामा किया और उसे बूथ से हटाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को अवगत भी कराया। नगर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर भी हंगामे की स्थिति बनी रही। 

Edited By: Narendra Kumar