मुरादाबाद, जेएनएन। सरकार ने कोरोना संक्रमण से लोगों की जान बचाने के लिए साप्ताहिक बंदी शुरू की है। संक्रमण के दौरान लोग बेखौफ होकर नियम तोड़ रहे हैं। सड़कों और गली-मुहल्लों में शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा। पुलिस और प्रशासन ने भी सड़कों पर आवाजाही करने वालों पर कोई सख्ती नहीं की। ट्रैफिक पुलिस के होमगार्ड वाहन चेकिंग के बहाने से लोगों से वसूली करते रहे।

कोरोना संक्रमण की वजह से साप्ताहिक बंदी चल रही है। लेकिन, आम आदमी इसका पालन करने के लिए जरा भी तैयार नहीं है। शहर के कई बाजारों में भीड़भाड़ है। गली-मुहल्लों में कोई सुनने को तैयार नहीं है। शहर के लाइनपार, बारादरी, तहसील स्कूल, मंडी चौक, गलशहीद, ईदगाह रोड, गांधी नगर हरथला, चक्कर की मिलक, बंगला गांव, डिप्टी गंज, बुध बाजार, काजी की सराय, ताड़ीखाना व मझोला में लोग बुध बाजार, काजी की सराय, ताड़ीखाना, लाइनपार का पालन नहीं करते दिखे। सड़कों पर दो और चार पाहिया वाहन दौड़ते रहे।  पुलिस भी किसी के साथ सख्ती के साथ पेश नहीं आ रही है। वाहन चेकिंग के नाम पर कुछ लोगों ट्रैफिक पुलिस के सिपाही रोक लेते हैं। लेकिन, वह भी मामला रफा-दफा करने में ही ज्यादा विश्वास करते हैं। एसडीएम प्रशासन सुरेंद्र कुमार सिंह आनंद ने बताया कि साप्ताहिक बंदी में लोगों को खुद ही नियमों का पालन करना चाहिए। महामारी में हम सबकी जिम्मेदारी है कि शारीरिक दूरी बनाकर रहें।

कोरोना में मांस की दुकान पर गंदगी को लेकर हंगामा

कोरोना काल में मांस की दुकान पर गंदगी को लेकर हंगामा हो गया। आसपास के लोगों के समझाने पर किसी तरह मामला निपट गया। मांस की दुकानों पर कोरोना संक्रमण के नियमों का पालन नहीं हो रहा है। कोहिनूर तिराहे के पास गली में स्थित मांस की दुकान पर गंदगी को लेकर लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया। लोगों का कहना था कि साफ-सफाई नहीं होने से कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है। मांस की दुकानों पर भी सैनिटाइजर की व्यवस्था होनी चाहिए। 

 

Edited By: Narendra Kumar