मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। रामपुर के म‍िलक के ग्राम बहेटरा निवासी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता दान सिंह यादव ने अपने खून से राष्ट्रपति को भेजे पत्र में सांसद आजम खां की जेल से रिहाई की मांग की है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि रामपुर शहर से नौ बार विधायक और मौजूदा समय में रामपुर लोकसभा सीट से जनता द्वारा चुने हुए सांसद को प्रदेश सरकार ने राजनीतिक द्वेष भावना से प्रेरित होकर झूठे मुकदमों में फंसाकर जेल भेज दिया गया है।

कहा क‍ि सीतापुर जेल में रहते हुए उन्हें कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया था, जिसके कारण काफी लंबे समय से वह बीमार हैं। प्रदेश सरकार ने उन्हें बीमारी की हालत में ही अस्पताल से वापस जेल भेज दिया था। जहां कुछ दिन पहले उनकी हालत फिर बिगड़ गई और उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी गंभीर हालत को देखते हुए राष्ट्रपति स्वयं संज्ञान लेकर उन्हें रिहा करने के आदेश करें।

जल्‍द होगा कार्यकारिणी का  गठन : राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की शुक्रवार को ज्वालानगर में बैठक हुई। इसमें जिलाध्यक्ष रवेंद्र गंगवार ने कहा जल्द जिला कार्यकारिणी का विस्तार होगा, जिसमें महासंघ के प्रति आस्था व निष्ठावान शिक्षकों को पदाधिकारी बनाया जाएगा। जिन ब्लाक में ब्लाक कार्यकारिणी का गठन हुआ है उनमें जल्द सदस्यता अभियान चलाकर कार्यकारिणी का गठन किया जाएगा। शिक्षकों की समस्याओं का समाधान राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की प्राथमिकता में है। शिक्षकों का शोषण महासंघ किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगा। कार्यकारी अध्यक्ष नरेंद्र पाठक ने कहा 69000 भर्ती शिक्षकों का एरियर के लिए जल्द जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी व वित्त एवं लेखाधिकारी से महासंघ का प्रतिनिधि मंडल मिलकर जल्द से जल्द एरियर भुगतान की मांग करेगा। बैठक में महामंत्री विपेंद्र कुमार, लालता प्रसाद, गौरव गंगवार, सुधीर शर्मा, निर्मल चंद्र राय, विनोद कुमार, अजय कुमार, अभिनव सक्सेना, राकेश कुमार, हरीश गंगवार, डा.वसीम अहमद, राजेंद्र सिंह, सोनी गुप्ता, सादिया, महमूर, वाणी मेहरोत्रा, गीता कुमारी, लता पाल, रफत बेगम, उजाला, परवीन आदि मौजूद रहे।

Edited By: Narendra Kumar