मुरादाबाद, जेएनएन। रेल प्रशासन ने ऋषिकेश रेल मार्ग पर ट्रेनों को सौ किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलाने की तैयारी कर ली है। रेलवे के ट्रायल में ऋषिकेश रेल मार्ग हाई स्पीड ट्रेन संचालन में सक्षम साबित हो चुका है। 

लक्सर से हरिद्वार रेल मार्ग अब दोहरीलाइन में तब्‍दील हो चुका है। इस मार्ग पर ट्रेनें पहले से ही सौ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलती रहींं हैंं। दिसंबर 2020 तक हरिद्वार से देहरादून तक 52 किलोमीटर तक ट्रेनें 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलती थींं। जबकि ट्रेन के राजाजी नेशनल पार्क में पहुंचते ही ट्रेन की गति घटकर 35 किलोमीटर प्रति घंटा रह जाती थी। रेल प्रशासन ने रेलवे लाइन व स्टेशनों के यार्ड में सुधार करने के बाद जनवरी 2021 से हरिद्वार से देहरादून के बीच ट्रेनों को सौ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलाने के आदेश द‍िए हैं। हरिद्वार-देहरादून के बीच रायवाला से योगनगरी न्यू ऋषिकेश व ऋषिकेश के लिए रेल मार्ग 12 किलोमीटर का है। इस मार्ग पर नई रेलवे लाइन व स्लीपर डाला जा चुका है। उसके बाद भी इस मार्ग पर ट्रेनें 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलाया जा रहीं थी। मंगलवार को इस मार्ग पर सौ किलो मीटर की रफ्तार से ट्रेन चलाकर ट्रायल किया गया। यह ट्रायल सफल रहा। इस मार्ग पर भी ट्रेन को सौ किलोमीटर की रफ्तार से चलाने की स्वीकृति दे दी गई है। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा शर्मा ने बताया कि रायवाला-ऋषिकेश रेल मार्ग पर ट्रायल में सफल रहने के बाद सौ किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन चलाने की अनुमत‍ि दी गई है। अब ट्रेन हरिद्वार से ऋषिकेश तक सौ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलेगी।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021