मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। जमीन की खोदाई में मिली सोने के मोतियों से बनी माला बताकर ठगी करने वाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। हरदोई निवासी आरोपित हीरालाल केवल बैंक में तैनात सुरक्षा कर्मियों के साथ ठगी करता था। पुलिस ने आरोपित के पास से नकली सोने की माला और 48 हजार रुपये बरामद किए।

डिलारी थाना क्षेत्र के सलेम सराय रीठावाला गांव निवासी जितेन्द्र सिंह कांठ रोड स्थित बैंक शाखा में गार्ड के पद तैनात थे। उन्होंने बताया था कि 31 अगस्त को युवक बैंक शाखा में खाता खुलवाने के लिए आया था। युवक और उसके साथ आई महिला ने खुद को अनपढ़ बताकर खाता खुलवाने की जानकारी मांगी। बातचीत के दौरान ही आरोपितों ने गार्ड से कहा कि उन्हें जमीन की खोदाई के दौरान सोने की माला मिली है। इसको बेचकर पैसा जमा कराने के लिए बैंक में खाता खुलवाने आए हैं। आरोपितों ने बैग में अंदर माला दिखाई। गार्ड ने जब उन्हें खाता खुलवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज के बारे में बताया तो वह बाेले वह मजदूर हैं, उनके पास कोई कागज नहीं हैं। माला तुम ही खरीद लो, जो समझो उतने रुपये दे देना। इसके बाद यकीन दिलाने के लिए उसी माला से असली सोने से बने दो मोती गार्ड को चेक कराने के लिए दे दिए। गार्ड ने ज्वैलर्स जब उन्हें चेक कराया तो उन्हें असली बताया। झांसे में आकर गार्ड जितेन्द्र ने आरोपितों को दो लाख रुपये दे दिए थे। माला मिलने के बाद जब गार्ड जब चेक कराने पहुंचा तो उन्हें वह नकली निकली। सिविल लाइंस थाने के दारोगा सौरभ त्यागी ने इस मामले में आरोपित ठग हीरालाल निवासी विभूति नगर थाना कोतवाली जनपद हरदोई को गिरफ्तार किया। आरोपित के पास से दो किलो की नकली सोने की माला और 48 हजार रुपये की नकदी बरामद की गई। आरोपित से पूछताछ में पता चला कि उसने चार से पांच वारदातों को अंजाम दिया है। इनमें से केवल एक ही मामले में प्राथमिकी दर्ज हुई।

...........................................................

कई शहरों में ठगी की घटनाएं की

पुलिस की पूछताछ में आरोपित ने बताया कि मुरादाबाद के साथ ही गोरखपुर, लखनऊ, कुशीनगर और पंजाब के राज्यों में आरोपित ने ठगी की वारदात की हैं। इस काम में आरोपित के साथ महिला भी रहती है। पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है।

Edited By: Vivek Bajpai