मुरादाबाद । टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां अमरोहा मेंं  बाल कल्याण समिति के दफ्तर पहुंची तथा अपने लिखित बयान दर्ज कराए। वह शनिवार को भी मौखिक बयान दर्ज कराने यहां पहुंची थीं। हसीन जहां ने छह महीना पहले डिडौली पुलिस व अपने ससुरालियों पर बेटी व स्वयं का उत्पीडऩ करने का आरोप लगाते हुए राष्ट्रीय बाल आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी।

यह था पूरा मामला

छह महीना पहले क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां अपनी बेटी आएरा शमी के साथ सहसपुर अलीनगर स्थित ससुराल आई थीं। विवाद के चलते ससुरालियों की शिकायत पर डिडौली पुलिस हसीन जहां व उनकी पत्नी को ससुराल से लेकर जिला अस्पताल पहुंची थी। उन्हें घर में नहीं जाने दिया था। रातभर हसीन जहां को जिला अस्पताल में रखने के बाद अगले दिन शांतिभंग की धाराओं में कार्रवाई की थी। इसकी शिकायत हसीन जहां ने राष्ट्रीय बाल आयोग में की थी। आरोप था कि मेरे साथ मेरी मासूम बेटी का उत्पीडऩ किया गया था।

जिला बाल कल्याण समिति कर रही पूरे मामले की जांच

राष्ट्रीय बाल आयोग के आदेश पर इस मामले की जांच जिला बाल कल्याण समिति कर रही है। इस क्रम में शुक्रवार को हसीन जहां भी अपने बयान दर्ज कराने विकास भवन परिसर स्थित समिति के दफ्तर पहुंची थीं। उन्होंने समिति के अध्यक्ष हरपाल स‍िंंह के समक्ष अपने मौखिक बयान दर्ज कराए थे। सोमवार को हसीन जहां फिर से बाल कल्याण समिति के दफ्तर आई थीं। आज उन्होंने समिति के समक्ष अपने लिखित बयान दर्ज कराए। लगभग एक घंटा यहां रुकने के बाद हसीन जहां वापस लौट गई। उधर, इस मामले में अभी क्रिकेटर मोहम्मद शमी की तरफ से अपना बयान दर्ज नहीं कराया गया है। समिति द्वारा उन्हें बयान दर्ज कराने के लिए नोटिस जारी किया जा चुका है।

राष्ट्रीय बाल आयोग को भेजी जाएगी रिपोर्ट

हसीन जहां सोमवार को अपने बयान दर्ज कराने समिति के कार्यालय आई थीं। यहां लगभग एक घंटा रुक कर उन्होंने अपने लिखित बयान दर्ज कराए हैं। उनके ससुरालियों को नोटिस जारी किया जा चुका है। अब उनके बयान भी दर्ज होने हैं। उसके बाद ही जांच रिपोर्ट राष्ट्रीय बाल आयोग को भेजी जाएगी। हरपाल सि‍ं  , अध्यक्ष बाल कल्याण समिति।

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस