मुरादाबाद, जेएनएन। मेरठ की निजी यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर की दुल्हन ने साथ रहने को अनूठी शर्त रखी है। उसका कहना है कि वह ससुराल जाने को तैयार है, लेकिन इसके लिए पति को मेडिकल टेस्ट में फिट होने का प्रमाणपत्र देना होगा। हालांकि पति अपना फिटनेस प्रमाण पत्र लेकर पहुंचा लेकिन इसके बावजूद युवती उसके साथ जाने के लिए तैयार नहीं हो रही है। 

थाना कांठ क्षेत्र की रहने वाली एमए पास युवती का निकाह एक साल पहले बिजनौर जिले के युवक से हुआ है। युवक मेरठ के मवाना रोड स्थित निजी इंजीनियरिंग यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर है। शादी के बाद कुछ समय तक दोनों के बीच सब कुछ ठीकठाक रहा, लेकिन बाद में अनबन होने लगी। इस बीच पति को छोड़कर पत्नी मायके में आकर रहने लगी। उसने मुरादाबाद एसएसपी को प्रार्थनापत्र देकर पति पर प्रताडऩा का आरोप लगाया। एसएसपी ने मामला नारी उत्थान केंद्र में भेज दिया। रविवार को नारी उत्थान केंद्र में काउंसलर एमपी सिंह ने दोनों पक्षों को बुलाकर काउंसिलिंग की। नारी उत्थान केंद्र प्रभारी संध्या रावत ने बताया कि काउंसिलिंग के दौरान पत्नी ने असिस्टेंट प्रोफेसर के पुरुषार्थ पर सवाल खड़े कर दिए जबकि असिस्टेंट प्रोफेसर ने कहा कि वह प्रतिदिन बिजनौर से मेरठ आता-जाता है, इसलिए थकान हो जाती है। दोनों को समझाबुझा कर समझौता कराने का प्रयास किया गया लेकिन, सफलता नहीं मिली। काउंसलर एमपी सिंह ने बताया कि असिस्टेंट प्रोफेसर अपना मेडिकल परीक्षण कराएगा। युवती ने शर्त रखी है कि रिपोर्ट में सबकुछ ठीक होने पर ही वह उसके साथ जाएगी। विदाई की तारीख भी तय हो गई है। शर्त यह भी रखी है कि असिस्टेंट प्रोफेसर उसे अपने साथ मेरठ में रखेगा। पति अपना मेडिकल रिपोर्ट लेकर आया था लेकिन अभी तक पत्नी उसके साथ जाने को राजी नहीं हुई। दोनों में सुलह कराने की कोशिश की जा रही है। 

 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप