रामपुर, जेएनएन। सांसद आजम खां के करीबी पूर्व सीओ सिटी आले हसन खां ने राष्ट्रपति को पत्र लिखा है, जिसमें कहा है कि उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है। उनका उत्पीडऩ किया जा रहा है। वह आत्महत्या कर लेंगे और इसके लिए एसपी जिम्मेदार होंगे। 

यह है मामला 

आलेहसन खां भी सांसद आजम खां के करीबी लोगों में शुमार हैं। वह लंबे समय तक रामपुर में रहे और रिटायर्ड होने के बाद आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी में मुख्य सुरक्षा अधिकारी बन गए। आले हसन खां के खिलाफ 55 मुकदमे दर्ज हैं। उनके खिलाफ जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के आरोप में 27 मुकदमे, जबकि डूंगरपुर और यतीमखाना प्रकरण में भी 25 मुकदमे दर्ज हुए हैं। पुलिस सभी मामलों की विवेचना कर रही है। आले हसन खां का लुक आउट नोटिस भी जारी हो चुका है। पुलिस को उनकी तलाश है लेकिन, हाथ नहीं आ रहे हैं। उन्होंने राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। 

जिला मुख्यालय पर पहुंचा पत्र

पुलिस अधीक्षक डॉ.अजय पाल शर्मा ने बताया कि आले हसन ने राष्ट्रपति को जो पत्र लिखा है, वह जिला मुख्यालय पर आ गया है। पत्र में कहा है कि वह आत्महत्या कर लेंगे और इसके लिए एसपी जिम्मेदार होंगे। 

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस