जागरण संवाददाता, अमरोहा। Bank Employees Protest News : ग्रामीण बैंकों के निजीकरण के विरोध में शुक्रवार को अमरोहा जनपद की प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक की 146 शाखाओं में हड़ताल रही। बैंकों के बाहर ताले लटके रहे। काम बंद कर कर्मचारियों ने क्षेत्रीय प्रबंधक के कार्यालय पर नारेबाजी व प्रदर्शन कर तीखा विरोध जताया और फिर छह सूत्रीय मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा।

हड़ताल से 40 करोड़ रुपये का लेनदेन प्रभावित

बैंकों में हड़ताल की वजह से ग्राहक दिनभर परेशान रहे। करीब 40 करोड़ रुपये का लेनदेन प्रभावित रहा। अभी दो दिन बैंक अवकाश होने की वजह से नहीं खुलेंगे। प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक आफिसर्स एसोसिएशन के कर्मचारी सुबह दस बजे बैंक पहुंचे और काम बंद कर दिया।

कर्मचारियों ने की जोरदार नारेबाजी

सभी बैंक शाखाओं पर ताले लटकाकर आजाद मार्ग स्थित क्षेत्रीय प्रबंधक के कार्यालय पर जमा हुए। यहां पर कर्मचारियों ने जोरदार नारे लगाए और प्रदर्शन किया। इस दौरान एसोसिएशन के अध्यक्ष विपुल चिकारा ने कहा कि ग्रामीण बैंकों का निजीकरण किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

सरकार ग्रामीण बैंकों का जारी करना चाहती है आइपीओ

भारत सरकार ग्रामीण बैंकों का आइपीओ जारी करना चाहती है लेकिन, उसकी इस मंशा को कर्मचारी कभी पूरा नहीं होने देंगे। इसके अलावा अन्य वक्ताओं ने भी अपने विचार रखे और मांगों के निस्तारण की आवाज उठाई। बाद में कर्मचारियों ने क्षेत्रीय प्रबंधक अनुज कुमार मांगलिक को ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान कैलाशराज निर्मल, गजराज सिंह, अंकुर चौधरी, मनोज कुमार, जयवीर सिंह, सचिन कुमार, विजय मीणा, मोहित सिंह, अंकुश कुमार, भूपेंद्र सिंह, दीपक सक्सेना, विनय त्यागी, राजीव त्रिपाठी, मनोनीत सैनी, कामराज अहमद आदि मौजूद रहे।

बैंक कर्मचारियों की क्या हैं मांगें

  • ग्रामीण बैंकों का निजीकरण न किया जाए।
  • भारत सरकार ग्रामीण बैंकों का आइपीओ जारी न करे।
  • पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू की जाए।
  • दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नियमित किया जाए।
  • ग्रामीण बैंकों में भी राष्ट्रीयकृत बैंकों के समान समस्त सुविधाएं एवं भत्ते लागू किए जाएं।
  • भारतीय स्तर पर भारतीय ग्रामीण बैंक की स्थापना की जाए।

क्या कहते हैं अधिकारी

प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक अनुज कुमार मांगलिक का कहना है कि प्रथमा बैंक के कर्मचारियों की एक दिवसीय हड़ताल थी। सभी बैंक बंद रहे हैं। अब दो दिन शनिवार व रविवार को बैंकों में अवकाश रहेगा। इसलिए बैंक सोमवार को अपने निर्धारित समय दस बजे खुलेंगे। जिसके बारे में प्रबंधकों निर्देशित कर दिया गया है। हड़ताल से तकरीबन 40 करोड़ रुपये का लेनदेन प्रभावित हुआ है।

Edited By: Samanvay Pandey