मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Dengue in Moradabad : डेंगू के मरीजों की संख्या कम नहीं हो रही है। बुधवार को भी आठ लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। इसमें भैंसिया गांव के अय्यूब, चक्कर की मिलक के वसीम, कच्चा बाग मुहम्मद अजीम, पुलिस लाइन की शारीना, कटघर के शहजादे, दौलतबाग की हुस्ना में डेंगू की पुष्टि हुई है। स्‍वास्‍थ्‍य व‍िभाग की ओर से लगातार लोगों को जागरूक क‍िया जा रहा है।

सीएमओ डा. एमसी गर्ग ने बताया कि आठ लोगों की डेंगू की रिपोर्ट पाजिटिव मिली है। लोगों से अपील है कि अपने घरों में सफाई का विशेष ध्यान रखें। पानी जमा न होेने दें। मच्छरदानी लगाकर सोएं। फुल आस्तीन के कपड़े पहनें। योग्य चिकित्सक से उपचार कराएं। 

एलाइजा जांच में छह व्यक्ति और निकले डेंगू संक्रमित, 25 बुखार के मरीज : अमरोहा में जिला सर्विलांस अधिकारी ने बताया कि बुधवार को स्वास्थ्य विभाग को मिली जांच रिपोर्ट में छह व्यक्ति और डेंगू पाजिटिव पाए गए हैं। यह मरीज अमरोहा नगर, डिडौली, गजरौला, हसनपुर के निवासी हैं। सभी को कई दिन से बुखार आ रहा था। स्थानीय चिकित्सकों से इलाज न होने पर स्वजनों ने निजी और जिला अस्पताल में भर्ती कराया। वहां एलाइजा जांच कराई तो डेंगू पाजिटिव निकले। जिले में डेंगू केसों की संख्या बढ़कर 778 हो गई है। वहीं सरकारी अस्पतालों की इमजेंसी में 336 मरीज की नब्ज देखी। इसमें 25 मरीज बुखार के निकले।

डेंगू मच्छर का जीवन चक्र : अमरोहा के जिला सर्विलांस अधिकारी डा. सत्यपा्ल सिंह ने बताया कि डेंगू मच्छर का जीवन चक्र डेढ़ से तीन सप्ताह का होता है। यह मच्छर साफ पानी, गीली दीवारों और कूलर व डिब्बों में भरे पानी में अंडे देता है। अंडों से दो से सात दिनों के अंदर लार्वा उत्पन्न होता है। यह लार्वा चार दिन के अंदर प्यूपा में बदल जाता है। इसके दो दिन बाद प्यूपा वयस्क मच्छर में तब्दील हो जाता है।

Edited By: Narendra Kumar