मुरादाबाद। छजलैट में  टॉफी का लालच देकर युवक पांच साल की बच्ची को एकांत में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। बच्ची किसी तरह घर पहुंची तो उसकी हालत देख परिजनों को घटना का पता चला। इसके बाद बच्ची के पिता और परिजनों को आरोपित युवक के परिवार वालों ने शिकायत के लिए थाने नहीं जाने दिया। समझौते का दबाव बनाते हुए दो दिन तक बंधक बनाए रखा। रविवार को किसी तरह थाने पहुंचकर परिजनों ने शिकायत की। पुलिस ने युवक पर दुष्कर्म करने और उसके परिवार के छह लोगों पर परिवार को बंधक बनाकर रखने का मुकदमा दर्ज किया है।

क्षेत्र के गांव निवासी व्यक्ति की बच्ची पड़ोसी के घर में 11 अक्टूबर को दिन में खेलने गई थी। इस दौरान गांव का ही अंकित पुत्र सियाराम बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने एकांत में ले गया। उसके साथ दुष्कर्म किया और भाग गया। बच्ची किसी तरह घर पहुंची तो परिजनों को घटना की जानकारी हुई। बच्ची के पिता का आरोप है कि  आरोपित युवक के पिता सियाराम, बलराम सिंह, महेंद्र सिंह, धर्मपाल सिंह वर्मा, दयाराम आदि ने शिकायत करने के लिए थाने तक नहीं जाने दिया। दो दिन तक गांव में समझौते के लिए दबाव बनाते हुए बंधक बनाकर रखा गया। रविवार को पीडि़ता परिजन किसी तरह दबंगों के चंगुुल से निकलकर थाना छजलैट पहुंचे और शिकायत की। थानाध्यक्ष छजलैट प्रिंस शर्मा घटनास्थल पर पहुंचे और पड़ताल की। थानाध्यक्ष ने बताया कि बच्ची के पिता की तहरीर के आधार पर सभी सात आरोपितों को गिरफ्तार करके उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप