अमरोहा (राहुल शर्मा)। Date of birth rigged for goveronment job। नगर पालिका परिषद में तैनात सफाई कर्मी मां व सफाई नायक बेटी के प्रकरण की जांच के दौरान और भी बड़ा फर्जीवाड़ा खुलकर सामने आया है। इसमें जन्मतिथि में खेल कर कर्मचारियों ने स्वजनों को सरकारी व संविदा पर नौकरियां दिलवाई हैं। सफाई कर्मी मां अपने बेटे से 11 साल बड़ी है तो पिता 15 साल। इस फर्जीवाड़े की शिकायत मिलने के बाद अपर जिलाधिकारी विनय कुमार सिंह ने ईओ को संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

शहर की रहने वाली विमला देवी नगर पालिका में सफाई कर्मी हैं। जबकि उनकी बेटी अंजना सफाई नायक के पद पर कार्यरत हैं। विमला को सास व बेटी को पिता की जगह नौकरी मिली है। दोनों की नौकरी दो साल के अंतर में लगी है। खास बात यह है कि मां अपनी बेटी से उम्र में महज 11 वर्ष बड़ी है। जिसका आरटीआइ के जरिए पर्दाफाश होने के बाद नगर पालिका अधिकारियों व कर्मचारियों में खलबली मची थी। एडीएम के आदेश पर अन्य कर्मियों के दस्तावेजों की जांच कराई तो बड़ा फर्जीवाड़ा खुल गया। इसमें सफाई कर्मचारी सविता अपने सफाई कर्मी बेटे राजेश से महज नौ साल बड़ी निकली। रजनेश पालिका में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। सफाई कर्मचारी मां राजकुमारी उससे 15 साल बड़ी पाई गई। इसके अलावा सफाई कर्मी सरोज अपने संविदा कर्मी बेटे काले से 11 साल, सफाई नायक अशोक कुमार अपने संविदा कर्मी बेटे सोहन लाल से 15 व सफाई कर्मी सुदेश अपने संविदा कर्मचारी बेटे विक्की से 13 साल बड़ा निकला।

मां-बेटी के अलावा अन्य सफाई कर्मचारियों की जन्मतिथियों में भी गड़बड़ी पाई गई है। जांच के दौरान ही उनका मामला प्रकाश में आया है। नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी मणिभूषण तिवारी को संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई कर रिपोर्ट से अवगत कराने के निर्देश दिए गए हैं।

विनय कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस