मुरादाबाद : सोमवार को लखनऊ पैथलेब से मिली रिपोर्ट में मुरादाबाद के 12 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसमें किसरोल का 53 वर्षीय, पीपलसाना भोजपुर का 24 वर्षीय, टीएमयू में भर्ती 42 वर्षीय आफताब आलम, कंजरी सराय 65 वर्षीय, बिलारी का 65 वर्षीय, हिमगिरी कालोनी का 21 वर्षीय, डबल फाटक दुर्गेश नगर का 24 वर्षीय, टीएमयू अस्पताल के चार, मेरठ से रेफर मझोला का युवक कोरोना संक्रमित हुआ है। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ दिनेश कुमार प्रेमी ने बताया कि मुरादाबाद में 12 कोरोना संक्रमित की पुष्टि हुई है। इनमें एक मेरठ से रेफर होकर आया है। मुरादाबाद का रहने वाला है। 

मुहल्लों को कराया जा रहा सील 

अमरोहा : सोमवार को स्वास्थ्य महकमे को मिली 13 जांच रिपोर्ट में 10 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इनमें अमरोहा, पपसरा और गजरौला के लोग शामिल हैं। रिपोर्ट मिलने के बाद प्रशासन सक्रिय हो गया है। मरीजों को वेंकटेश्वर यूनिवर्सिटी में भर्ती कराने के साथ ही संबंधित मुहल्लों को सील कराया जा रहा है।

कोरोना संग डेंगू और मलेरिया के खिलाफ भी चलेगा अभियान

कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग की टीमें अब कोरोना के साथ ही डेंगू और मलेरिया के लिए भी लोगों को जागरूक करेंगी। इसके मलेरिया विभाग जिले के 584 गांव में लोगों को बीमारियों के लक्षण बताने के साथ ही बचाव के तरीकों के बारे में भी बताया जाएगा। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. बी सिंह ने बताया कि एक जुलाई से 31 जुलाई तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा। दवा का छिड़काव करने के साथ ही संक्रमण की रोकथाम के लिए लोगों को जागरूक भी किया जाएगा।

डेंगू के लक्षण

डेंगू की शुरुआत तेज बुखार, सिरदर्द और पीठ में दर्द से होती है। शुरू के तीन से चार घंटों तक जोड़ों में दर्द होता है। आंखें लाल हो जाती हैं। गले के पास की लिम्फ नोड सूज जाते हैं। डेंगू बुखार दो से चार दिन तक रहता है। धीरे धीरे तापमान नार्मल हो जाता है। मरीज ठीक होने लगता है और फिर से तापमान बढ़ने लगता है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एमसी गर्ग ने बताया कि सीजनल बीमारियां भी बारिश से शुरू हो रहीं हैं। मलेरिया विभाग ने छिड़काव तो शुरू कर दिया है, लेकिन संक्रामक नियंत्रण अभियान एक जुलाई से प्रभावी ढंग से शुरू किया जा रहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस