जागरण संवाददाता, मुरादाबाद : दीपावली नजदीक आने के साथ ही बाजार रंग-बिरंगी रोशनी में नहाया हुआ है। इंटरनेट मीडिया पर चाइनीज सामान के बहिष्कार के चाहें जितने दावे हों लेकिन, बाजार पहुंचते ही ये बातें बेमानी हो जाती हैं। तेज रोशनी की चाइनीज झालरें लोगों को खूब पसंद आ रही हैं। बीते साल की अपेक्षा इस बार चाइनीज सामान की कीमतें भी बढ़ी हैं लेकिन, फिर भी लोग इन्हें जमकर खरीद रहे हैं। स्वदेशी सामान भी बाजार में उपलब्ध है लेकिन, उसकी मांग उतनी ज्यादा नहीं है।

दीपावली पर रोशनी के लिए चाइनीज के साथ ही भारतीय सामान भी बाजार में उपलब्ध है। कीमत भी चाइनीज सामान की अपेक्षा कम है लेकिन, रोशनी के मुकाबले देसी सामान चाइना के सामान से पिछड़ रहा है। इसके चलते लोग चाइनीज सामान की ओर ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं। चाइनीज एलईडी, फिक्सल, झरना, डायमंड आरजीबी, अंडा राकेट, कलर एलईडी, कलर राकेट और पाइप झालर की बाजार में जमकर बिक्री हो रही है। बीते वर्ष की अपेक्षा इस बार चाइना के हर सामान की कीमत 10 से 20 रुपये अधिक है। पिछले साल 50 रुपये में मिलने वाली चाइना की 15 मीटर की एलईडी अब 60 रुपये में दी जा रही है। फिक्सल लाइट जो पिछले साल 90 रुपये की थी अब 100-110 रुपये की मुहल्ला मानपुर में दी जा रही है। शहरी बाजार में इसके 10 रुपये अधिक लिए जा रहे हैं।

चाइनीज आइटमों की बाजार में कीमत

लाइट, पिछले साल अब

एलईडी (15 मीटर) 50, 60,

फिक्सल 90, 100,

झरना 450, 550,

डायमंड(15 मीटर) 80, 90,

आरजीबी(15 मीटर) 60, 70,

अंडा (15 मीटर) 80, 90,

राकेट (15 मीटर) 75, 85,

कलर एलईडी (15 मीटर) 60, 70,

कलर राकेट (15 मीटर) 75, 85,

पाइप झालर (18 मीटर) 700, 720,

-----

हमारे पास देसी-विदेशी हर तरह का सामान उपलब्ध है लेकिन, ग्राहक रोशनी करके चेक करता है तो उसे चाइनीज झालरें ही पसंद आती हैं।

अंकित जैन, मुहल्ला मानपुर

----

कई ग्राहक को पूछते भी नहीं हैं कि चाइनीज है या देसी लाइट। उन्हें मतलब होता है सिर्फ रोशनी से। चमकती हुई लाइट को ही पसंद किया जा रहा है। हम भी बेच रहे हैं।

अमर सिंह, मुहल्ला मानपुर

----

पिछले साल के मुकाबले चाइनीज सामान 10-20 रुपये महंगा है। इसके बाद भी लोग तेज रोशनी वाली चाइनीज झालरों की ही मांग करते हैं। हमें भी धंधा करना है तो बेचना पड़ता है।

कपिल कुमार, मुहल्ला मानपुर

Edited By: Jagran