मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। मुख्य विकास अधिकारी आनंद वर्धन ने विकास खंड ठाकुरद्वारा की गांव पंचायत कुडेसरा का स्थलीय निरीक्षण किया। सर्वप्रथम गांव पंचायत में बनाए गए पंचायत भवन का उद्घाटन किया गया। मनरेगा योजना की समीक्षा करने पर पाया कि वर्ष 2021-22 में गांव में कोई कार्य नहीं कराए गए हैं जबकि गांव में मनरेगा के तहत कार्य कराए जाने की पर्याप्त संभावनाएं हैं। सीडीओ ने इस पर नाराजगी जताते हुए रोजगार सेवक को लापरवाह मानकर तीन दिन में जवाब देने के लिए कहा है।

सीडीओ ग्राम पंचायत कुडेसरा पहुंचे। इस दौरान पंचायत भवन में ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। उन्होंने पंचायत भवन में उपस्थित ग्रामीणों से विकास कार्यों एवं उनकी समस्याओं के बारे में पूछा गया। आंगनबाड़ी तथा आशा वर्कर से बच्चों के पुष्टाहार एवं उनको चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के बारे में जानकारी की। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 2020-21 में बने आवासों को देखने में सीडीओ ने पाया कि अभी तक आवासों का लाभार्थी द्वारा प्लास्टर नहीं किया गया है जबकि लाभार्थी को पूर्ण धनराशि प्राप्त हो गयी है। सीडीओ ने ग्राम पंचायत सचिव कपिल कुमार से आवासों का समय-समय पर निरीक्षण नहीं करने तथा कार्य पूर्ण नहीं कराए जाने के कारण तीन दिन के अंदर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। साथ ही आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत 14 पैरामीटरों को भी पूर्ण करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान मौजूद अधिकारियों से सीडीओ ने दो टूक कह दिया कि विकास कार्यों में पारदर्शिता लानी है। शिकायत मिलने पर जांच में दोषी पाए जाने वाले अधिकार‍ियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

 

Edited By: Narendra Kumar