मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। embezzlement of government money : अगवानपुर के चेयरमैन के बेटे के खिलाफ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने धोखाधड़ी के साथ ही सरकारी धन के गबन करने के आरोप में मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। कोर्ट के आदेश पर सिविल लाइंस थाना पुलिस ने आरोपित के साथ ही तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की।

अगवानपुर के मुहल्ला सादात नगर निवासी मुहम्मद मुस्तकीम ने बताया कि 2019-2020 में उसके पिता के नाम से नगर पंचायत में महालक्ष्मी ट्रेंडर्स के नाम फर्म पंजीकृत कराई थी। इस फर्म के नाम पर आवास बनाने का टेंडर जारी किया गया था। लेकिन टेंडर जारी होने के बाद नगर पंचायत के चेयरमैन ने पंचायत के बाबू पर दबाव बनाकर फर्म को बंद दर्शाकर उसी फर्म के नाम से दूसरा खाता बैंक में खुलवा लिया था। इसके बाद टेंडर का सारा पैसा खुद के खुलवाए खाते में ट्रांसफर करा लिया था। जब इस बात की जानकारी पीड़ित को हुई, तो उसने विरोध किया। जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बाद पीड़ित ने सीजेएम कोर्ट में वाद दायर किया था। सीजेएम कोर्ट ने मामले का संज्ञान लेकर सिविल लाइंस थाना पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। सिविल लाइंस थाना प्रभारी रवीन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि आरोपित चेयरमैन पुत्र इमरान मिल्की के साथ ही दो-तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की गई है। जांच करके मामले की कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि पांच नवंबर को भी चेयरमैन पुत्र पर पंचायत में गोली चलाने का आरोप है। इस मामले में भी पुलिस ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रखा है। वहीं चेयरमैन पुत्र का दावा था कि कुछ विरोधियों ने राजनीति द्वेष भावना से उसका पुराना वीडियो वायरल करके मुकदमा दर्ज कराया है। 

Edited By: Narendra Kumar