मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। मकान के लिए दो भाइयों का आपस में विवाद हो गया। इस दौरान विवाद इतना बढ़ गया कि बड़े भाई ने छोटे के सीने में बैठ कर कैंची से अनगिनत वार कर द‍िए। शोर मचाने पर आरोपित घायल अवस्था में छोड़कर भाग गया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने घायल को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा। डाक्टरों ने जांच के बाद घायल युवक को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए शव भेज दिया। सीओ ठाकुरद्वारा डा.अनूप कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

डिलारी के गक्खरपुर गांव में इकबाल कपड़े सिलने का काम करता था। परिवार में बड़ा भाई नौशाद और शमशाद हैं। करीब डेढ़ साल पहले पिता शाहिद की मौत के बाद तीनों भाईयों ने आपस में जमीन का बंटवारा किया था। जिस आवास में इकबाल रहता था, उसको लेकर नौशाद के साथ विवाद चल रहा था। घर के बंटवारे के दौरान मकान की कुल कीमत 22 लाख रुपये आंकी गई थी, इस दौरान यह तय हुआ था, कि जो 11 लाख रुपये देगा वहीं इस मकान में रहेगा। कुछ माह पहले नौशाद ने इकबाल को 50 हजार रुपये देकर आवास खाली करने के लिए राजी कर लिया था। वहीं यह तय हुआ था,कि 20 जुलाई को साढ़े दस लाख रुपये देकर आवास खाली करा लिया जाएगा। सोमवार को शाम करीब पांच बजे नौशाद और शमशाद अपने छोटे भाई इकबाल के घर पांच लाख रुपये लेकर पहुंचे थे। इस दौरान छोटे भाई ने बड़े भाईयों से कहा कि पहले जो बयाना के रूप में पैसे दिए थे, वह खत्म हो गए हैं, अगर घर लेना है तो पूरे साढ़े दस लाख लेकर आओ, इसके बाद आवास खाली कर दूंगा। दोनों का छोटे भाई से वाद-विवाद के बाद मारपीट होने लगी। इसी दौरान नौशाद ने घर पर रखी कैंची से इकबाल के सीने और पेट में ताबड़तोड़ वार कर दिए। कुछ ही देर में वह खून लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़ा। वहीं चीखने-चिल्लाने आवाज सुनकर कमरे में मौजूद पत्नी फराह अंजुम और बूढ़ी मां हसरत जहां दौड़ पड़ी। आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना देने के साथ ही घायल को डिलारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में पहुंचने के बाद कुछ ही देर बाद डाक्टरों ने घायल इकबाल को मृत घोषित कर दिया। सीओ ठाकुरद्वारा ने बताया कि मृतक की पत्नी की तहरीर पर आरोपित दोनों बड़े भाईयों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई की गई है। आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी।

 

Edited By: Narendra Kumar