मुरादाबाद, जेएनएन। उत्तर प्रदेश पुलिस एडवांस एप्लीकेशन फॉर सोशल मीडिया एनालिटिक्स(आसमा) से सोशल मीडिया पर खुराफात करने वालों पर पैनी नजर रखे हुए है। किसी ने सोशल मीडिया पर जरा सी भी हरकत की तो पुलिस उसके घर पहुंच जाएगी। उप्र में हजारों की संख्या में सोशल मीडिया के प्रयोगकर्ता पुलिस की निगरानी में हैैं। मुरादाबाद मंडल में पांच हजार से ज्यादा लोगों की निगरानी की जा रही है।

वर्ष 2015 में मेरठ के डीआइजी दफ्तर में फेसबुक, ट्विटर, वाट्सएप, यूट्यूब, इंट्राग्राम और गूगल प्लस के यूजर्स पर निगरानी रखने के लिए मेरठ में सोशल मीडिया कमांड एंड रिसर्च सेंटर (एसएमसीआरसी) बनाया गया था। इस सेंटर को बतौर डीआइजी तैनात रहे आइजी मुरादाबाद रेंज रमित शर्मा ने बनवाया था। लैब के लिए जापान से सर्वर मंगाया गया। सोशल मीडिया लैब के जरिए डाटा मिलने के बाद जिन लोगों को चिह्न्ति करते हैैं, उन पर लगातार नजर रखते हैैं। आइजी रमित शर्मा ने बताया कि डिजिटल वालेंटियर्स के जरिए पुलिस की बात सोशल मीडिया के जरिये ऐसे लोगों तक पहुंचती है। पुलिस सोशल मीडिया की कड़ी निगरानी कर रही है। सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले किसी की व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

इस तरह सोशल मीडिया पर रखी जा रही निगाह

एसएमसीआरसी ने आसमा के जरिए सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए प्रदेश के सभी रेंज कार्यालयों की आइडी बनाई है। अयोध्या प्रकरण में फैसला आने से पहले संवेदनशीलता को देखते हुए मुरादाबाद मंडल के सम्भल, मुरादाबाद, रामपुर, बिजनौर और अमरोहा जिलों की भी आइडी बना दी गई। आइडी लॉगिन करने पर सोशल मीडिया के प्लेटफार्मों से जिलों को यूजर्स का फ्री डाटा मिल जाता है। इसके जरिए आसानी से उन्माद फैलाने वाले यूजर्स पकड़ में आ जाते हैैं। उनके लिंक वाले यूजर्स को भी इसी तरह पकड़ लिया जाता है। इसी व्यवस्था के तहत मंडल में दो दिन में 35 लोगों से पोस्ट हटवाई गई हैं। इन सभी लोगों को फिलहाल कार्रवाई की चेतावनी देकर छोड़ दिया गया।

मुरादाबाद रेंज में डिजिटल वालेंटियर्स

- 14,958 डिजिटल वालंटियर्स मुरादाबाद रेंज में बनाए गए हैैं।

- 3531 मुरादाबाद में

- 3355 रामपुर में

- 1500 सम्भल में

- 3815 बिजनौर में

- 1897 अमरोहा में

डिजिटल वालेंटियर्स सोशल मीडिया पर नजर रखे हैैं। यह सभी वालेंटियर्स पुलिस को सोशल मीडिया के यूजर्स की हर हरकत की जानकारी दे रहे हैैं।

- रमित शर्मा, आइजी, मुरादाबाद रेंज।

Posted By: Narendra Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप