मुरादाबाद, जेएनएन। अमरोहा के गजरौला में नौनेर ग्राम पंचायत की मतगणना के परिणाम आने पर दोनों पक्षों के लोग भिड़ गए। काफी देर हंगामा हुआ। एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे। इससे मतगणना भी बाधित हुई। दूसरी व तीसरी बार गिनती में जब दोनों पक्षों के मत बराबर-बराबर रहे तब कशमकश की स्थिति अधिकारियों के सामने बन गई। इसके समाधान को पर्ची बनाकर एक बालिका को बुलवाकर उससे निकलवाई गई। उसके आधार पर अंशु को विजयी घोषित किया गया। इसी तरह चुनाव परिणामों को लेकर कई अन्य पंचायतों में भी विवाद होने की सूचना है।

नौनेर ग्राम पंचायत अंशु व सविता आमने -सामने थी। कांटे की टक्कर में परिणाम सामने आया तो एक को 312 तो दूसरी को 314 मत मिले। तड़के में इसी पर एक पक्ष ने दूसरे पर आरोप लगाते हुए विवाद शुरु कर दिया। दोनों पक्षों में नोकझोंक के बीच हंगामा होने पर अधिकारी हरकत में आ गए। इसके बाद फिर से दोनों पक्षों के मतों का अलगकर गिनती कराई। तीसरी बार में दोनों पक्षों के बराबर-बरामद मत होने पर अधिकारियों ने दोनों प्रत्याशियों के नामों की पर्ची बनवाई। बाहर से एक बालिका की व्यवस्था कराकर उससे पर्ची निकलवाई। उसके आधार पर अंशु को विजयी घोषित किया। इस चक्कर में कई घंटे मतदान भी प्रभावित रहा। हालांकि जीत का प्रमाण पत्र के लिए अंशु को कई घंटे बैठाए रखा। एसडीएम संजय बंसल ने बताया कि मतगणना के दौरान विवाद होने पर फिर से गिनती कराने पर दोनों प्रत्याशियों के समान वोट पाए गए। उसके बाद पर्ची डलवाकर विजयी प्रत्याशी घोषित किया। इधर मोहम्मदाबाद के नेपाल सिंह इत्यादि ने भी मतगणना में गड़बड़ी करने का आराेप लगाते हुए मौखिक शिकायतें की। हालांकि एसडीएम संजय बंसल ने बताया कि शिकायत मतगणना केे दौरान नहीं की गई। बाद में आरोप लगाए गए है। इसी तरह सलेमपुर समेत कई अन्य पंचायतों की मतगणना के दौरान भी गडबड़ी करने के आरोप लगाए। इनको लेकर हंगामा हुआ लेकिन किसी पक्ष केे द्वारा लिखित में शिकायत मिलने से एसडीएम संजय बंसल ने इन्‍कार किया है।

 

Edited By: Narendra Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट