मुरादाबाद,जेएनएन: प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को जल्द ही स्मार्ट क्लास की सौगात मिलेगी। प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत जिले के 260 स्कूलों की कक्षाओं को स्मार्ट बनाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। प्रस्ताव के तहत सभी कक्षाओं को आधुनिक करने के साथ ही वहां बच्चों को लैपटॉप व प्रोजेक्टर के माध्यम से पढ़ाया जाएगा।

एक क्लास को स्मार्ट बनाने में खर्च होंगे दो लाख 54 हजार रुपये

जिले में अभी तक 93 स्कूलों में स्मार्ट क्लास हैं। इनमें प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय शामिल हैं लेकिन, इनकी संख्या बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार की ओर से प्रस्ताव मांगे गए हैं। बेसिक शिक्षा अधिकारी योगेंद्र कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत जिले के 260 स्कूलों को चयनित किया गया है। इन स्कूलों में स्मार्ट क्लास बनाए जाने का प्रस्ताव है, जिसे केंद्र सरकार को भेजा जा चुका है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार से इसे स्वीकृति मिल चुकी है, अब केंद्र से स्वीकृति मिलते ही इन कक्षाओं पर काम शुरू कर दिया जाएगा।

एक कक्षा पर खर्च होंगे दो लाख 54 हजार

इस योजना के तहत प्रत्येक कक्षा को स्मार्ट बनाने के लिए दो लाख 54 हजार रुपये खर्च किए जाएंगे। इसमें कक्षा के निर्माण के साथ ही उसके लिए लैपटॉप, प्रोजेक्टर व स्मार्ट बोर्ड भी खरीदा जाएगा। प्रस्ताव के तहत सभी ब्लाक के स्कूलों का चयन किया गया है, इसमें 73 प्राथमिक व 187 उच्च प्राथमिक विद्यालय शामिल हैं।

अब केंद्र सरकार से मिलनी है स्वीकृति

अभी 93 कक्षाएं ही स्मार्ट हैं। अन्य कक्षाओं को स्मार्ट बनाने के लिए प्रस्ताव तैयार किया गया है। इसमें लैपटॉप व प्रोजेक्टर के माध्यम से पढ़ाई कराई जाएगी। जिसे राज्य सरकार से स्वीकृति मिल चुकी है, अब केंद्र सरकार से स्वीकृति मिलनी है।

योगेंद्र कुमार, बेसिक शिक्षा अधिकारी

Posted By: Narendra Kumar