जासं, चुनार (मीरजापुर) : कोतवाली क्षेत्र के बल्लीपुर गांव में युवक ने पेड़ के सहारे गमछे का फंदा लगा कर खुद की इहलीला समाप्त कर ली। सोमवार की सुबह जब गांव के लोग जंगल की तरफ गए तो पेड़ से युवक का शव देख अफरा तफरी मच गई। लोगों ने पुलिस और मृतक के घर वालों को सूचना दी गांव निवासी बल्लीपुर निवासी चंदन (20) पुत्र फूलचंद बकरियां चराने और मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते थे। चार महीने पूर्व उसका विवाह हुआ था। आस पड़ोस वालों की माने तो रविवार शाम करीब सात बजे को उसकी किसी बात को लेकर पत्नी से कहासुनी हो गई थी। जिसके बाद वह रात में घर से चला गया था। सुबह उसका शव गमछे के सहारे पेड़ से लटकता मिला। चकगंभीरा चौकी पुलिस ने पंचायतनामा के बाद पोस्टमार्टम करा कर शव परिजनों को सौंप दिया। पुत्र की मौत से मृतक के पिता सदमे में हैं।

मौत की खबर से परिजनों में मचा कोहराम

हलिया : थाना क्षेत्र के सुकतरवा मुड़पेली गांव निवासी रामधनी कोल की पत्नी अर्चना (30) ने संदिग्ध् परिस्थितियों में रविवार को घर में ही किसी बात से नाराज होकर जहरीला पदार्थ खा लिया जिससे वह अचेत हो गई। जानकारी होते ही परिजन आनन फानन में उपचार के लिए पिपरा बाजार स्थित एक निजी चिकित्सक के यहां ले गए। जहां इलाज के दौरान देर रात विवाहिता ने दम तोड़ दिया। मौत की सूचना पर परिजनों में कोहराम मच गया। वही परिजनों की सूचना पर सुबह मौके पर पंहुचे प्रभारी निरीक्षक अमित सिंह ने शव को पीएम के लिए भेज दिया। मृतका का मायका हलिया थाना क्षेत्र के सोनगढा गांव में है तथा शादी दस वर्ष पूर्व हुई थी, मृतका को तीन बच्चे हैं। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक अमित सिंह ने बताया कि विवाहिता द्वारा कोई जहरीला पदार्थ खाने से इलाज के दौरान मौत हो गई है जांच पड़ताल की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस