जागरण संवाददाता, विध्याचल, (मीरजापुर) : विध्य कारिडोर को अमलीजामा पहनाने के लिए दस दिनों के अंदर मंदिर के परिक्रमा पथ और मां के धाम की ओर जाने वाली गलियों का चौड़ीकरण करने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इसकी कवायद शुरू कर दी गई है। परिक्रमा पथ और गलियों के चौड़ीकरण करने का कार्य राजकीय निर्माण निगम की ओर से किया जाएगा।

मंदिर के पास 50 फीट का परिक्रमा पथ बनाने का कार्य किया जाएगा। इसके लिए जगह को खाली करा लिया गया है। मंदिर को जाने वाली गलियों में थाना कोतवाली रोड 35 फीट, न्यू वीआइपी रोड 35 फीट, मंदिर से पक्का तक 35 फीट, पुरानी वीआइपी रोड 40 व 45 फीट चौड़ी की जाएंगी। इसके नापी का कार्य हो चुका है। चौड़ीकरण के दायरे में आने वाले भवनों को भी चिन्हित कर तोड़ा जा चुका है। कुछ स्थानों पर कुछ कार्य बचे हैं जिनका कार्य शुरू कर दिया जाएगा। शासन का स्पष्ट निर्देश है कि जल्द इसके कार्य को शुरू करा दिया जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाए। शासन के निर्देश पर परिक्रमा पथ और गलियों के चौड़ीकरण करने का कार्य जल्द ही शुरू करा दिया जाएगा। विध्य कारिडोर का शिलान्यास करने के लिए मंदिर के सामने पूरब और उत्तर की ओर लगे जापानी हैंगर को हटा दिया गया है। पक्के घाट और पुरानी और न्यू वीआइपी रोड पर लगे बास बल्ली तथा वाटर प्रूफ तिरपाल को भी हटाया जा रहा है। वहीं गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से विध्य कारिडोर का मंदिर की उत्तर और पूरब के कोना पर रविवार को किए गए भूमि पूजन के गड्ढे को निर्माण निगम के कर्मचारियों ने ढककर उस पर चबूतरा बनवा दिया है, जिससे वह स्थान सुरक्षित रहे।

जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने बताया कि राजकीय निर्माण निगम को विंध्य कारिडोर के निर्माण के लिए पत्र जारी कर दिया गया है।

Edited By: Jagran