जागरण संवाददाता, गड़बड़ाधाम (मीरजापुर) : हलिया विकास खंड क्षेत्र के प्रसिद्ध गड़बड़ाधाम में बुधवार को शीतला मां के स्कंदमाता स्वरूप का दर्शन करने के लिए जिले के अलावा अन्य जनपदों के साथ मध्य प्रदेश के विभिन्न जिले से श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा। पचास हजार से अधिक भक्तों ने मां शीतला के दरबार में हाजिरी लगाई। कोविड-19 के मद्देनजर मंदिर के गर्भगृह के कपाट बंद होने के कारण श्रद्धालुओं को झांकी से ही दर्शन-पूजन कराया गया।

दर्शन पूजन के पूर्व भोर में मंदिर किनारे स्थित सेवटी नदी में आस्था की डुबकी लगाई। इसके बाद फल-फूल, गुड़हल की माला, नारियल चुनरी व मां को प्रसाद के रूप में हलवा-पूड़ी और लोटिया में जल भरकर मां के चरणों में चढ़ाकर मत्था टेक अपनी-अपनी मन्नतें मांगी। मंदिर प्रबंधक प्रकाश चंद्र शुक्ल ने सीसीटीवी से श्रद्धालुओं की निगरानी करते रहे। वही एडीओ पंचायत पीयूष दुबे ने सफाई कर्मियों को साफ-सफाई कराने के लिए निर्देशित किया। हल्का प्रभारी रामज्ञान यादव सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर हमराहियों के साथ चक्रमण करते रहे।

-

बांस के बने बर्तनों की खरीदारी

दूरदराज से आए महिला एवं पुरुषों ने मेले में सजी दुकानों से सामानों की खरीदारी की। महिलाओं ने श्रृंगार एवं घरों के लिए लकड़ी के बने बेलन, चौका, मुसर, बांस की टोकरी आदि सामानों की खरीदारी की। वही बच्चों ने खिलौने खरीदे तथा गुड़ की बनी जलेबी का स्वाद चखा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021