जागरण संवाददाता, मीरजापुर : आयुष्मान लाभार्थियों की सेहत और मिलने वाली सुविधाओं को अपडेट हर दिन अब स्मार्टफोन पर मिलेगी। साथ ही सेंटर पर उन लोगों को भी प्राथमिक उपचार की सेवा नि:शुल्क दी जायेगी जिनका नाम आयुष्मान योजना में नहीं है। इसके लिए आशा और संगिनी को स्मार्टफोन दिए जा रहे हैं।

जनपद में 2043 स्मार्ट फोन आ चुके हैं। जिसको आशा और संगिनी मित्र को वितरित किए जाएंगे। आयुष्मान लाभार्थी एवं हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर उपचार कराने वाले लाभार्थी के संबंध में जानकारी को स्मार्टफोन के जरिए अपलोड करने का कार्य किया जायेगा। इससे लोगों को प्रतिदिन की जानकारी लेने में आसानी हो जायेगा कि कितने लोगों को योजना का लाभ पहुंचाया जा रहा है। जनपद में आ चुके स्मार्ट फोन का वितरण जल्द करने की तैयारी है।

अधिकारियों की माने तो हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर की हर जानकारी स्मार्टफोन के माध्यम से जिला प्रशासन से लेकर प्रदेश शासन तक अपडेट रखी जायेगी। कितने लोगों ने आयुष्मान योजना के बारे में जानकारी ली, कितने लाभ उठाना चाहते हैं। इन सभी को स्मार्टफोन के जरिए अपडेट रखा जायेगा। यह पहल आयुष्मान योजना के दूसरे भाग यानी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के लिए की गई है।

इनसेट

सी बैंक फोल्डर बनाया जायेगा

स्मार्टफोन मिलने के बाद पहले चरण में आशाओं का काम लाभार्थियों का सी-बैंक फोल्डर बनाने का कार्य होगा। इसके तहत आयुष्मान लाभार्थी परिवार में 30 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों की हाइपरटेंशन, डायटिबीज और इसके बाद महिलाओं से संबंधिकतक बीमारियों की जांच की जाएगी। वर्जन

आयुष्मान लाभार्थियों को मिलने वाली सुविधाओं की अब स्मार्टफोन पर जानकारी मिलेगी। जिले के 97 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर यह शुरू हो चुका है। शेष 86 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर काम तेजी पर शुरू कर दिया गया है।

-ओपी तिवारी मुख्य चिकित्साधिकारी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस