जागरण संवाददाता, चुनार (मीरजापुर) : भारतीय जीवन बीमा निगम के चुनार शाखा कार्यालय के गेट पर बुधवार को बीमा कर्मियों द्वारा अपनी विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया गया। ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर केंद्र सरकार की आर्थिक नीति का विरोध करते हुए बीमा संगठनों के बैनर तले यह धरना प्रदर्शन किया गया। वक्ताओं ने सार्वजनिक क्षेत्र की नीलामी करने पर तुली केंद्र सरकार के खिलाफ आक्रोश प्रकट किया।

वाराणसी डिविजन इन्श्यूरेंस इंपलाइज एसोसिएशन के बैनर तले शाखा कर्मी हड़ताल पर रहे। इस दौरान कामरेड शिवराम तिवारी ने कहा कि अगस्त 2017 से लंबित वेतन पुनरीक्षण तत्काल किया जाए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बीमा कर्मियों के हितों की लगातार अनदेखी कर रही है। महामंत्री जयप्रकाश वर्मा ने बीमा प्रीमियम पर जीएसटी समाप्त करने की मांग की। उन्होंने कहा कि बीमा प्रीमियम पर जीएसटी के चलते बीमाधारकों पर अनावश्यक बोझ बढ़ा है। कामरेड पीके भारती ने एनपीएस समाप्त करने की मांग उठाते हुए पुरानी पेंशन बहाली की मांग की। अन्य वक्ताओं ने मजदूर विरोधी श्रम कानूनों के संशोधन को तत्काल समाप्त करते हुए श्रमिक हितों की रक्षा करने की बात कही। इसके साथ ही विदेशी निवेश में वृद्धि को देश की अर्थ व्यवस्था के लिए घातक बताया। इस दौरान तारा देवी, नवीन, निशिकांत, संजय कनौजिया, संतोष कुमार सिंह, विशाल कुमार, केके श्रीवास्तव, ममता सिंह, यशवंत सिंह आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस