जागरण संवाददाता, मीरजापुर : खाद्य सुरक्षा विभाग की प्रयोगशाला में जांच के दौरान खाद्य पदार्थों के 30 में से 19 नमूने फेल हो गए। प्रयोगशाला से जांच रिपोर्ट आने के बाद खाद्य सुरक्षा विभाग मिलावटखोरों पर अंकुश लगाएगा। खाद्य पदार्थाें में मिलावट मिलने पर अब मिलावटखोरों पर कार्रवाई होगी। इसमें से 18 मामलों में एडीएम कोर्ट व एक मामले में एसीजेएम कोर्ट में वाद दाखिल करने की तैयारी में विभाग जुट गया है।

जिलाधिकारी अनुराग पटेल के निर्देशन में खाद्य सुरक्षा व औषधि विभाग द्वारा होली त्योहार के मद्देनजर दुकानों पर औचक छापेमारी करते हुए नमूना भरा था। नमूना लेने के बाद विभाग द्वारा खाद्य पदार्थो की जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया था। प्रयोगशाला से जांच रिपोर्ट ने सबको चौंका दिया है। अभिहीत अधिकारी अभय कुमार सिंह ने बताया कि जांच रिपोर्ट में 30 में से 19 नमूने फेल हुए है। चुनार क्षेत्र में एक दुकान से रंगीन चकरी का नमूना लिया गया था, जिसमें मिलावट ज्यादा मिली है। इस मामले का वाद एसीजेएम कोर्ट में दाखिल किया जाएगा। इसके साथ ही प्रयोगशाला की जांच में छह खोवा, एक क्रीम, तीन नमकीन, एक सेवई, दो सरसों का तेल, एक पनीर, एक वनस्पति, एक दूध, एक दही और एक मिठाई का नमूना फेल हुआ है। इन मामलों पर कार्रवाई के लिए एडीएम कोर्ट में वाद दाखिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विभागीय दिशा निर्देशों के क्रम में मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान आगे भी जारी रहेगा, इसके लिए विभागीय स्तर पर खाद्य निरीक्षकों की टीम का भी गठन किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस