जागरण संवाददाता, मीरजापुर : ट्रक मालिकों ने प्रमुख सचिव परिवहन को ज्ञापन सौंपकर जनपद में नष्ट हो रहे ट्रांसपोर्ट बिजनेस को जिदा रखने की मांग की। कहा कि लोक निर्माण विभाग की लापरवाही के चलते शास्त्रीपुल का मरम्मत नहीं हो पा रहा है। जिससे चालकों को 80 किलोमीटर का चक्कर लगातार रामनगर के रास्ते बिहार या चंदौली जाना पड़ रहा है। इसमें उनको हजारों रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने प्रमुख सचिव से पुल की मरम्मत कराने के लिए पीडब्ल्यूडी विभाग से उसका प्रस्ताव बनाकर भेजवाने का निर्देश दिए जाने की मांग की।

शुक्रवार की दोपहर जिला पंचायत सभागार में बैठक ले रहे प्रमुख सचिव परिवहन अरविद कुमार को ट्रकर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने पत्रक सौंपा। बताया कि पूर्वाचल, बिहार व नेपाल को जोड़ने वाले विध्याचल मंडल के मीरजापुर जनपद में तीन पुल है। इसमें एक शास्त्री पुल, दूसरा भटौली तथा तीसरा चुनार पुल शामिल है। शास्त्री पुल से मध्य प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा व महाराष्ट्र से लगभग 10 हजार ट्रके प्रतिदिन गुजरते थे लेकिन इसके जर्जर होने से प्रशासन ने इसपर बड़े वाहनों के आने जाने पर रोक लगा दिया गया। दिल्ली सीआरटीसी टीम ने पुल की जांच करने के बाद इसका मरम्मत कराने को कहा लेकिन लोक निर्माण विभाग ने इसका प्रस्ताव बनाकर बजट पास करने के लिए शासन को भेजने के लिए कहा लेकिन विभाग ने नहीं भेजा। न ही भटौली व चुनार पुल से ट्रकों को आने जाने की अनुमति प्रदान की। इससे ट्रक चालक रामनगर टोल प्लाजा के रास्ते बिहार, नेपाल समेत अन्य स्थानों पर जाने के लिए भारी सुविधा शुल्क चुका रहे हैं। यहीं नहीं इससे डीजल की खपत भी अधिक हो रही है जिससे जनपद के वाहन मालिक अपने वाहन सरेंडर करने को मजबूर हैं। पुल को चालू कराना अति आवश्यक है। इस दौरान विध्य ट्रकर एसोएसिशन के अध्यक्ष राजू चौबे, जिला महासचिव उमेश पांडेय, विक्की तिवारी, अजित तिवारी, इंद्र कुमार, अखिलेश सिंह, जयशंकर दूबे, मुनमुन दूबे आदि शामिल है। इनसेट

प्रमुख सचिव परिवहन से आरटीओ द्वारा ओवरलोड वाहन चलवाने की शिकायत

मीरजापुर मोटर आपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष गुरमिदर सिंह सरना के नेतृत्व में मोटर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने परिवहन सचिव अरविद कुमार को ज्ञापन देकर ओवरलोड वाहनों का संचालन बंद कराने की मांग की। आरोप लगाया कि वाहन मालिक आरटीओ व खनिज विभाग की मिलीभगत से ओवरलोड वाहनों का संचालन धड़ल्ले कर रहे हैं। जिससे अंडरलोड चलने वाले वाहन मालिकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वाराणसी में आरटीओ की मिलीभगत से चलने वाले ओवरलोड के खेल को एक अखबार ने प्रकाशित भी किया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप