जासं, मीरजापुर : राजगढ़ विकास खंड के ग्राम सभा नदिहार के पहड़ी में सौभाग्य परियोजना के तहत हो रहा विद्युतीकरण कार्य ठेकेदार की मनमानी के कारण आठ माह बाद भी कार्य पूरा नहीं हुआ है। आधा-अधूरा कार्य छोड़ कर ठेकेदार फरार हो गया है, तार जमीन पर लटक रहे हैं। पोल के नीचे गिरे तारों में फंस कर दर्जनों ग्रामीण अब तक घायल हो चुके हैं। ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया कि विद्युतीकरण के लिए पूरे गांव में पोल खड़ा तो कर दिया गया लेकिन इस पर तार नहीं खींचा गया है। तार जमीन पर गिरा पड़ा है। रात के अंधेरे में महिला-पुरुषों का पैर इसमें फंस जाता है और वे गिर कर घायल हो जाते है। विकास खंड राजगढ़ क्षेत्र के निकरिका, पहड़ी, लिखनिया गांव बहुत से ऐसे गांव हैं। जहां अभी विद्युत पोल लगाए गए हैं पर तार तक नहीं खींचा गया है। कहीं-कहीं पर तार खींचा गया है तो बांस- बल्लियों के सहारे टिका हुआ है। पप्पू मौर्या ,राजेश, संजय, शत्रुध्न, कमलेश सिंह, सुरेश कुमार, महंथ, सुदर्शन भगत, सुबोध कुमार, हरेंद्र ,लखन, महेंद्र प्रसाद आदि का कहना है कि कार्य पूर्ण कराने के लिए कई बार विद्युत विभाग के अधिकारियों को पत्रक सौंपा गया पर कोई सुनवाई नहीं हुई। चेताया कि यदि शीघ्र ही समस्या का समाधान नहीं किया गया तो आंदोलन किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस