जागरण संवाददाता, अहरौरा (मीरजापुर) : मंगलवार को एक क्रशर प्लांट के डंपर चालक धर्मेंद्र (28) हाई वोल्टेज करेंट की चपेट में आने से मौत हो गई। क्रशर प्लांट पर कार्य कर रहे श्रमिकों ने चालक को सीएचसी पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के स्वजन शव लेकर नारायनपुर निजी चिकित्सालय गए, वहां के चिकित्सकों ने भी मृत बताया। हादसे से नाराज ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर क्रशर प्लांट पर शव रखकर हंगामा करना शुरू कर दिया।

क्षेत्र के सोनपुर गांव में स्थित क्रशर प्लांट में हुई घटना से कर्मियों में भारी आक्रोश देखा गया। डकही के रहने वाले युवक धर्मेद्र की मौत की खबर लगते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए।

मृतक धर्मेंद्र क्षेत्र के सोनपुर गांव स्थित क्रशर प्लांट पर डंपर चालक का काम करते थे। चालक स्टेपनी टायर का पंचर बनाने के लिए प्लांट से कुछ दूर पर स्थित एक दुकान पर चले गए। यहां पंचर बनाने वाले मिस्त्री ने उसे डाला को ऊपर की ओर उठाने के लिए कहा। इस दौरान चालक ने डाला को ऊपर उठाया और डंपर हाई वोल्टेज विद्युत तार की चपेट में आ गया, जिससे धर्मेंद्र झुलस गया और उसकी मौत हो गई।

क्रशर प्लांट पर लगाया आरोप

करेंट से झुलसने के दौरान हुई मौत के बाद क्रशर प्लांट पर कार्य कर रहे श्रमिक युवक के शव को सीएचसी पर छोड़ कर भाग गए। इससे स्वजनों ने धर्मेंद्र की मौत क्रशर प्लांट पर होने का आरोप लगाया और घंटों तक क्रशर प्लांट पर शव को रखकर हंगामा किया। क्रशर प्लांट संचालक द्वारा मुआवजा दिए जाने की मांग के बाद शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष अजीत श्रीवास्तव ने ग्रामीणों को समझाते हुए मामला रफा-दफा कराया। वर्जन

डंपर चालक की विद्युत करेंट की चपेट आने से मौत हो गई थी। किसी भी पक्ष ने

कोई तहरीर नहीं दी। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

अजीत श्रीवास्तव, एसओ अहरौरा

Edited By: Jagran