जागरण संवाददाता, जमुआं (मीरजापुर) : स्थानीय बाजार स्थित प्राचीन शिव मंदिर के पास कुछ सालों पहले जलनिगम विभाग द्वारा बनाई गई पानी टंकी किसी भी काम का नहीं रह गया है। वर्तमान समय में टंकी में ट्यूबवेल पंप से निकला बालू लगभग पांच फीट तक भर गया है और टंकी के जोड़ों में दरार हो जाने के कारण पेयजल आपूर्ति सही तरीके से नहीं हो पा रहा है। जिससे लोगों को पानी के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जबकि क्षेत्र के लोगों ने कई बार विभागीय अधिकारियों को पानी टंकी मरम्मत कराने के लिए गुहार लगाई लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

पंप संचालक बागी गिरी बताते है कि अब टंकी में पानी को नहीं भर जाता है क्योंकि अभी कुछ वर्षो पहले बनाई गई टंकी की जर्जर हालत होने के कारण अगर पानी भरा जाएगा तो कोई अप्रिय घटना घट सकती है। इसी कारण वश ग्रामीणों व बाजार के नागरिकों को जब बिजली रहती है तभी सप्लाई की जाती है अभी कुछ दिनों पहले 33 की लाइन में केबल खराब होने के कारण लगभग 22 घंटे तक बिजली सप्लाई नहीं होने के कारण क्षेत्रवासियों को पानी के लिए इधर उधर परेशान होना पड़ा था। क्षेत्र के लोगों ने बताया कि जलनिगम हो जाने के बाद अब न ही कोई हैंडपंप लगा न तो पुराने हैंडपंपों का मरम्मत का कार्य ग्राम सभा द्वारा कराया गया। गांव निवासी राजेश कुमार पटेल, रमेश शर्मा, काशी पटेल, गुड्डू, आशीष पटेल, गनेश कुमार, कैलाश, हैदरअली, स्वामीनाथ आदि लोगो ने बताया कि अगर बिजली नहीं रहती है तो लोगों को पानी के लिए परेशान होना पड़ता है। विधायक को पत्रक सौंप की शिकायत

जमुआं बाजारवासियों ने पेयजल किल्लत को देखते हुए मझवां विधायक सुचिस्मिता मौर्या के आवास पर पहुंचकर जलनिगम कर्मियों की लापरवाही की शिकायत करते हुए पत्रक सौंपा। बताया कि जलनिगम की टंकी एक तो जर्जर है और उसमें जितना पानी होता है उसे आपूर्ति न कर तालाब को कर्मियों द्वारा भरा जा रहा है। विधायक ने बाजारवासियों की बातों की संज्ञान लेते हुए जल्द ही समस्या समाधान कराने का आश्वासन दिया। पत्रक देने वालों में राजेश पटेल, रमेश शर्मा, काशीनाथ पटेल, रामसागर पटेल, अमित जायसवाल आदि शामिल रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस